• पत्थलगांव से युवा कावरियों का पहला जत्था हुआ देवघर रवाना
  • विधायक डॉ. विनय की पहल लाई रंग, ओलावृष्टि से नुकसान हुए किसानों को मिला मुआवजा राशि
  • नागपुर हाल्ट से चिरमिरी के बीच नई रेल लाईन का कार्य शीघ्र प्रारम्भ कराने हेतु राज्य की 50% राशि के आबंटन हेतु महापौर ने विधानसभा अध्यक्ष को सौपा पत्र
  • एक ही कक्ष में पढ़ रहे पहली से पांचवीं तक के बच्चे,,,,हाय ये कैसा विकास-विस्तार से जानने के लिए पढ़ें-Aajkadinnews.com
  • वर्षों पुराने वृक्ष एन.एच.43 के किनारे के काटे और लगाया रिजर्व फारेस्ट तपकरा में
  • नितिन भंसाली ने सुपर 30 फ़िल्म को छत्तीसगढ़ के सिनेमाघरों में टैक्स फ्री किये जाने का मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से अनुरोध किया
  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • nasir
  • halim
  • pawan
  • add hiru collage
  • add sarhul sarjiyus
  • add safdar hansraj
  • add harish u.d.
  • add education 01

लूँ से बचने देश में पहली बार लू के कारण धारा 144 लागू

लूँ से बचने देश में पहली बार लू के कारण धारा 144 लागू

औरंगाबाद : बिहार में प्रचंड गर्मी का कहर जारी है। एक तरफ जहां चमकी बुखार से बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है वहीं लू ने दो दिनों में ही 143 से ज्यादा लोगों की जान ले ली है। वहीं प्रदेश के गया जिले में भीषण गर्मी को देखते हुए धारा 144 लागू कर दी गई है।

गया के जिलाधिकारी ने दिया आदेश
देश में संभवतः यह पहला मामला है जब लू के कारण धारा 144 लागू की गई है। बिहार के गया जिले के जिलाधिकारी द्वारा जारी आदेश के अनुसार निषेधाज्ञा सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक प्रभावी होगी। इस दौरान निर्माण कार्य नहीं होंगे। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि प्रचंड गर्मी और लू से मजदूरों एवं निर्माण कार्यो से जुड़े लोगों को बचाया जा सके। आदेश में मनरेगा के तहत कराए जाने वाले कार्यों को भी दिन के 10:30 बजे निपटाने का निर्देश दिया गया है।
औरंगाबाद में हुई सबसे ज्यादा मौतें
लू की चपेट में आने से शनिवार को 66 लोगों की जान चली गई जबकि रविवार को 77 मौतें हुईं हैं। सबसे ज्यादा मौतें औरंगाबाद जिले में हुईं हैं। यहां सदर अस्पताल में 33 लोगों ने ईलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं, नवादा में 12, पटना में 11, गया में 9, बक्सर में 7 और आरा में 5 लोगों की लू की वजह से जान चली गई।
रविवार को तपता रहा पटना
रविवार को पटना में गर्मी ने एक बार फिर से रिकॉर्ड दर्ज कराया। यहां पारा 45 डिग्री तक पहुंच गया। हालांकि शनिवार के मुकाबले पटना का तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस कम रहा। वहीं, बिहार के गर्म स्‍थानों में गया का अधिकतम तापमान 44.4 पर रहा वहीं भागलपुर में 41 और मुजफ्फरपुर में 42.6 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।
अस्पतालों में एसी, कूलर लगाने के आदेश
प्रदेश में गर्मी और लू की वजह से हो रही मौतों को देखते हुए रविवार को आपदा प्रबंधन विभाग की टीम ने औरंगाबाद, नवादा और गया का दौरा किया। साथ ही अस्पतालों में तुरंत एसी और पंखे लगाने के आदेश दिए। मालूम हो कि रविवार को औरंगाबाद अस्पताल में हर आधे घंटे में हो रही मौत को देखते हुए डॉक्टर लाचार दिखे। इधर गया में भी लू से दो दिनों में 34 लोगों की जान चली गई है।
लू के कारण स्कूल बंद करने के आदेश
बिहार में लू के भीषण प्रकोप को देखते हुए प्रशासन ने गया, औरंगाबाद, नवादा और पटना में स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए हैं। साथ ही पटना से लू से प्रभावित शहरों में मेडिकल टीमों को रवाना कर दिया गया है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए अस्पताल के सभी कर्मचारियों की छुट्टियां भी रद्द कर दी गई हैं।
मौसम विभाग ने बढ़ाई प्रशासन की चिंता
वहीं मौसम विभाग ने दो-एक दिन में बारिश की संभावना से इंकार करते हुए प्रशासन की चिंता और भी बढ़ा दी है। विभाग का कहना है कि गया सहित राज्य के कई इलाकों में अगले चार दिनों तक बारिश की कोई संभावना नहीं है।
डॉक्टरों की देशव्यापी हड़ताल
पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों पर हुए हमलों के विरोध में सोमवार को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है। हालांकि आईएमए ने कहा है कि ओपीडी सहित सभी गैरजरूरी स्वास्थ्य सेवाएं सोमवार सुबह 6 बजे से मंगलवार सुबह 6 तक बंद रहेंगी।

बता दें कि आईएमए ने यह भी कहा है कि इमरजेंसी सेवाएं चलती रहेंगी। आईएमए बिहार के उपाध्यक्ष डॉ. अजय कुमार का कहना है कि प्रदेश में चमकी बुखार और लू के प्रकोप को देखते हुए इमरजेंसी और पोस्टमॉर्टम सेवा को हड़ताल से मुक्त रखा गया है।

एजेंसी

Tags:
nitish Kumar

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated

  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • Samwad 04
  • samwad 03
  • samwad 02
  • samwad 01
  • education 04
  • education 03
  • education 02
  • add seven