• एक्सक्लूसिव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान बिरयानी खाने नहीं दाऊद इब्राहिम से गठजोड़ करने गए थे,भाजपा के कई नेताओं का है संबंध दाऊद इब्राहिम से: अबु आसिम आजमी
  • पूर्ण चन्द्र पाढ़ी कोको के नेतृत्व में कल दिल्ली में जमा होंगे छत्तीसगढ़ के युवा कांग्रेसी
  • राहुल गांधी का मजाक उड़ाने का मामला: हरीश लकमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी लईका है,कांग्रेस को बर्बाद कर दूंगा आदि शब्दों से मचा बवाल
  • हरीश लखमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी को लेकर किया टिप्पणी से मचा बवाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,अगला 36 घंटे काफी अहम्
  • बैकुंठपुर: चोरी के आरोपी समान सहित धराये

हिंदुओं पर अपमानजनक टिप्पणी करके फंसे पाक के मंत्री-इस्तीफा देने का आदेश

लाहौर। हिंदू विरोधी टिप्पणी के कारण चौतरफा आलोचनाओं से घिरे पंजाब प्रांत के सूचना एवं संस्कृति मंत्री फैयाजुल हसन चौहान को माफी मांग लेने पर भी राहत नहीं मिली है और मुख्यमंत्री उस्मान बुज्दर ने उन्हें इस्तीफा देने को कहा है। सूत्रों ने बताया कि बुज्दर ने मंगलवार को चौहान को मुख्यमंत्री आवास में तलब किया और उन्हें इस्तीफा देने को कहा। उन्होंने चौहान से हिंदू विरोधी टिप्पणी को लेकर स्पष्टीकरण भी मांगा। उन्होंने कहा कि चौहान के खिलाफ पहले से भी शिकायतें रही हैं जिनके लिये उन्हें चेतावनी भी दी गयी थी। इससे पहले चौहान ने हिंदू विरोधी आपत्तिजनक टिप्पणियों के लिए चौतरफा आलोचना झेलने के बाद माफी मांग ली। उन्होंने कहा, मैं भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय सशस्त्र बल और वहां की मीडिया को संबोधित कर रहा था, पाकिस्तान के हिंदू समुदाय को नहीं। अगर मेरी किसी टिप्पणी से पाकिस्तान के हिंदू समुदाय को दुख पहुंचा है तो मैं माफी मांगता हूं।
उन्होंने कहा, मैं अपने मुल्क की ओर गंदी नजर से देखने वाले हर शख्स को मुंहतोड़ जवाब दूंगा। मेरे खून की हर बूंद मेरे मुल्क के लिए है। चौहान ने 24 फरवरी को एक जनसभा में हिंदू विरोधी टिप्पणियां की थी। इन टिप्पणियों के लिए उन्हें मानवाधिकार मंत्री शिरीन माजरी, वित्त मंत्री असद उमर, प्रधानमंत्री के विशेष सहायक नईमुल हक, सत्तारूढ़ दल पाकिस्तान तहरीक- ए-इंसाफ (पीटीआई) समेत कई दलों और नेताओं की कड़ी आलोचना झेलनी पड़ रही थी। यही नहीं माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर भी उनके खिलाफ हैशटैगसैकफैयाजचौहान से अभियान चलाया गया।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated