• आदिवासी छात्राओं द्वारा रेंगकर मांगने वाली छात्रवृत्ति मामला : सरगुजा के जी.एन.एम. नर्सिंग प्रशिक्षणरत आदिवासी छात्राओं के लिए 51.20 लाख रूपए आबंटित
  • बेलगाँव में शराब दुकान का विरोध करते अमित जोगी गाँव की महिलाओं के साथ गिरफ़्तार; दुकान बंद करने के लिखित आदेश के बाद सबको निशर्त छोड़ा गया।
  • बारिश से पहले नाला व नालियों की हो सफाई – रोशनलाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,स्थिति नाजुक-अगले 24 घंटे बेहद महत्वपूर्ण
  • मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन-(24 जून समय-7:00 शाम)
  • कोरिया: दवाइयों से लैस दो चलित अस्पताल वाहनों को विधायक और कलेक्टर ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया..

राफेल पर फिर बोले राहुल-मोदी ने दिलाया अंबानी को ठेका, दी बहस की चुनौती

राफेल पर फिर बोले राहुल-मोदी ने दिलाया अंबानी को ठेका, दी बहस की चुनौती

नई दिल्ली -राफेल डील को लेकर संसद में सरकार पर वार के बाद राहुल गांधी ने अब उससे बाहर भी हमला बोला है। राहुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीधे पीएम मोदी पर वार करते हुए कहा कि उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति से बात कर अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दिलाया और 30,000 करोड़ रुपये की चोरी की गई। यही नहीं राहुल ने पीएम मोदी को राफेल डील के हर बिंदु पर बहस करने की चुनौती दी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पीएम मोदी उनसे बहस नहीं करेंगे क्योंकि उनमें साहस ही नहीं है। राहुल ने एक बार फिर से आक्रामक तेवर दिखाते हुए कहा कि इस डील के तथ्य बताते हैं कि चौकीदार चोर है।
राहुल ने कहा कि गोवा सरकार में स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे का ऑडियो टेप है। इसमें वह साफ बोल रहे हैं कि पर्रिकर जी ने बोला है कि मेरा पास राफेल की पूरी फाइलें हैं और मुझे कोई डिस्टर्ब नहीं कर सकता है। इसके जरिए पर्रिकर देश के पीएम को ब्लैकमेल कर रहे हैं क्योंकि इनके पास इसकी पूरी जानकारी है। मंत्री कहते हैं कि पर्रिकर ने कैबिनेट मीटिंग में बोला कि मेरे पास राफेल की पूरी फाइलें हैं।राहुल ने कहा, सवाल यह है कि पर्रिकर जी के रूम में क्या इन्फर्मेशन है और क्या फाइलें हैं और इसका पीएम मोदी पर क्या असर है। राहुल ने कहा कि अपने भाषण में जेटली जी ने बोला कि कांग्रेस के पास 1600 करोड़ रुपये का नंबर कहां से आता है। हम बताते है कि यह कहां से आता है। जेटली का भाषण सुनवाते हुए राहुल ने कहा कि 58,000 करोड़ रुपये की पूरा डील है। इसे 36 से डिवाइड करेंगे तो 1,600 करोड़ रुपये आता है। इस तरह उन्होंने खुद ही बता दिया कि यह किसका नंबर है।

पीएम मोदी ने एयरफोर्स को किनारे कर बदली डील
राहुल ने कहा कि सवाल यह है कि जो दाम बदला गया है, उसे अरुण जेटली खुद आपके सामने बता रहे हैं। दाम को जो 526 करोड़ रुपये से 1600 करोड़ रुपये किया गया है, वह किसने किया और कैसे हुआ। मेरा सवाल है क्या इसे एयरफोर्स ने खारिज किया था। पूर्व डिफेंस मिनिस्टर साफ संकेत दे रहे हैं कि मुझे नई डील के बारे में कुछ मालूम नहीं है। अब कैबिनेट मीटिंग में कहते हैं कि मेरे पास पूरा माल पड़ा है। इसका मतलब है कि नरेंद्र मोदी ने प्रक्रिया बदली, एयरफोर्स ने आपत्ति की फिर भी उन्होंने इसे आगे बढ़ाया। उन्होंने सीधे ओलांद से बात की और कहा कि आप हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स को परे करें और अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दें।

गरीबों से चोरी हुए 3.5 लाख करोड़, अंबानी को दिए 30 हजार करोड़
राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान के किसानों और गरीबों से 3.5 लाख करोड़ रुपये चोरी कर उद्योगपतियों का कर्ज माफ किया गया। अनिल अंबानी पर 45 हजार करोड़ का चर्चा है, लेकिन नरेंद्र मोदी ने उन्हें 30,000 करोड़ का सीधे फायदा कराया है। सच्चाई यह है कि चौकीदार चोर है। सवाल यह है कि क्या पीएम भ्रष्टाचार में शामिल हैं। हम जेपीसी की बात कर रहे हैं। हमें पूरी तरह भरोसा है कि जेपीसी में दो लोगों के नाम सामने आएंगे। पहला नरेंद्र मोदी का और दूसरा अनिल अंबानी का।

राहुल बोले, राफेल एयरक्राफ्ट अच्छा, डील बुरी
राहुल ने कहा कि हम राफेल एयरक्राफ्ट पर सवाल नहीं उठा रहे, वह बहुत अच्छा है, लेकिन डील अच्छी नहीं है। राहुल ने कहा कि हमारी सरकार आएगी तो हम 100 फीसदी जांच कराएंगे। इस डील में प्रक्रिया की धज्जियां उड़ाई गई हैं। अनिल अंबानी की 10 दिन पहले कंपनी खुलवाई और फिर उन्हें कॉन्ट्रैक्ट दे दिया गया।

कांग्रेस अध्यक्ष का तंज, कौन सी दुनिया में हैं पीएम
राहुल ने कहा,आपने कल पीएम का डेढ़ घंटे का इंटरव्यू देखा। मुझे यह बात दिलचस्प लगी कि उन्होंने कहा कि इस डील में मेरे ऊपर कोई सवाल नहीं है। न जाने वह कौन सी दुनिया में हैं। दिलचस्प है कि वह सोचते हैं कि किसी और के बारे में सवाल पूछे जा रहे हैं, जबकि सवाल उनसे ही किए जा रहे हैं।

पीएम से हर बिंदु पर बहस को तैयार, उनमें साहस नहीं
राहुल ने कहा,मैं पीएम मोदी से राफेल डील के हर बिंदु पर बात करना चाहता हूं। मुझे वे सिर्फ 20 मिनट दें। लेकिन उनमें सामने बैठने का साहस ही नहीं है। मैं हर 7 से 10 दिन में आता हूं, लेकिन उनमें बैठने का साहस नहीं है। आपने कल पीएम मोदी का इंटरव्यू में देखा कि पत्रकार पीएम मोदी से सवाल भी कर रही थीं और जवाब भी दे रही थीं।

राहुल बोले, सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट नहीं दी
सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट को लेकर राहुल ने कहा कि अदालत ने कहा कि यह हमारे न्यायिक क्षेत्र का मसला नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने यह नहीं कहा है कि जेपीसी नहीं होनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट के फैसले में लिखा था कि सीएजी रिपोर्ट आ चुकी है, खडग़े जी ने बताया कि रिपोर्ट नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने यह नहीं कहा है कि इस डील में करप्शन नहीं है। उसने क्लीन चिट नहीं दी है बल्कि यह कहा है कि यह हमारे न्यायिक क्षेत्र का मसला नहीं है।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated