• एक्सक्लूसिव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान बिरयानी खाने नहीं दाऊद इब्राहिम से गठजोड़ करने गए थे,भाजपा के कई नेताओं का है संबंध दाऊद इब्राहिम से: अबु आसिम आजमी
  • पूर्ण चन्द्र पाढ़ी कोको के नेतृत्व में कल दिल्ली में जमा होंगे छत्तीसगढ़ के युवा कांग्रेसी
  • राहुल गांधी का मजाक उड़ाने का मामला: हरीश लकमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी लईका है,कांग्रेस को बर्बाद कर दूंगा आदि शब्दों से मचा बवाल
  • हरीश लखमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी को लेकर किया टिप्पणी से मचा बवाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,अगला 36 घंटे काफी अहम्
  • बैकुंठपुर: चोरी के आरोपी समान सहित धराये

चिरमिरी मनेन्द्रगढ़ में पर्यटन की संभावनाओ को तलाशने के लिए नेशनल एडवेंचर स्पोर्ट्स के विशेषज्ञों ने किया क्षेत्र का सर्वे

चिरमिरी मनेन्द्रगढ़ में पर्यटन की संभावनाओ को तलाशने के लिए नेशनल एडवेंचर स्पोर्ट्स के विशेषज्ञों ने किया क्षेत्र का सर्वे

“अफ़सर अली की रिपोर्ट”

विधायक डॉ. विनय की पहल पर मनेंद्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र में आयी विशेषज्ञों की टीम

चिरमिरी। मनेन्द्रगढ़ विधायक डाॅ विनय जायसवाल ने मनेन्द्रगढ़ डीएफओ से मिलकर रायपुर और बिलासपुर के नेशनल एडवेंचर स्पोर्ट्स विशेषज्ञों को चिरमिरी बुलाया। विशेषज्ञों के द्वारा मनेंद्रगढ़ और चिरमिरी को मिलाकर यहां पर्यटन की संभावनाएं तलाशी । टीम के साथ कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष सुभाष कश्यप, गोपाल द्विवेदी एवं विधायक प्रतिनिधि शिवांश जैन ने सर्वे टीम को यहां के पर्वत, झरने तथा मंदिरों को दिखाया।

गौरतलब है कि विधायक बनने के पूर्व डॉ. विनय ने अपने घोषणा पत्र में की गई बातों को पूरा करने के लिए मनेन्द्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र में पहले ही दिन कार्य पर जोरो से लग गए बात चाहे ज़िले की मांग की हो जलापूर्ति की हो या एसईसीएल श्रमिकों की समस्याओं की हो, इसके अलावा चिरमिरी को मॉडल शहर बनाने की हो, स्वास्थ्य सुविधाओं की या फ़िर पर्यटन तमाम मुद्दों पर विधायक काफ़ी चिंतित औऱ संवेदनशील नज़र आ रहे है । उसी दिशा में लगातार प्रयास करते हुए वनमंडलाधिकारी से बात कर सर्वे टीम में रायपुर से पहुँचे अमर मोदी ने कहा कि यदि चिरमिरी पर ठीक ढंग से ध्यान दिया जाएं तो पर्यटकों से काफी आवक हो सकती है। इसके साथ ही इंडस्ट्री के साथ साथ उद्योग जगत पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। एडवेंचर टूरिज्म की सहायता से भारतीय संस्कृति की बहुआयामी छवि को यहां दर्शाया जा सकता है । क्योंकि एडवेंचर के सारे केन्द्र प्रकृति की गोद में ही होते हैं। यही एक मौका होता है कि आप समाज से भी नजदीकी से जुड़ सकते हैं। बिलासपुर के सुशील दीक्षित ने कहा कि इन स्थानों पर पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए बहुआयामी रणनीति बनाने की आवश्यकता है जिससे कि पर्यटन को तो बढ़ावा मिले लेकिन प्रकृति को कोई नुकसान नहीं पहुंचे। वही डाॅ विनय जायसवाल का ऐसा मानना है कि एडवेंचर टूरिज्म की दिशा में चिरमिरी, मनेंद्रगढ़ को मिलाकर यदि ठीक से काम किया जाएं तो यह ऐसा क्षेत्र होगा जो दुनियाभर के पर्यटकों को सालभर यहां खींच सकता है।

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated