• एक्सक्लूसिव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान बिरयानी खाने नहीं दाऊद इब्राहिम से गठजोड़ करने गए थे,भाजपा के कई नेताओं का है संबंध दाऊद इब्राहिम से: अबु आसिम आजमी
  • पूर्ण चन्द्र पाढ़ी कोको के नेतृत्व में कल दिल्ली में जमा होंगे छत्तीसगढ़ के युवा कांग्रेसी
  • राहुल गांधी का मजाक उड़ाने का मामला: हरीश लकमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी लईका है,कांग्रेस को बर्बाद कर दूंगा आदि शब्दों से मचा बवाल
  • हरीश लखमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी को लेकर किया टिप्पणी से मचा बवाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,अगला 36 घंटे काफी अहम्
  • बैकुंठपुर: चोरी के आरोपी समान सहित धराये

मोदी युगीन लंगूरवाद..!!!

मोदी युगीन लंगूरवाद..!!!

नितिन राजीव सिन्हा//

नरेंद्र मोदी ने डॉडी मार्च की वर्ष गाँठ पर कांग्रेस पर एक बार फिर निशाना साधा और कह दिया कि १९४७ में आज़ादी के बाद गांधी कांग्रेस को अनियंत्रित भ्रष्टाचार के साथ जारी रखने के बजाय सम्मानपूर्वक ख़त्म करना चाहते थे..,
मोदी के जवाब में लिखना होगा कि क्या गांधी के समय भ्रष्टाचार था..? क्या तब की राजनीतिक पीढ़ी जिसमें राजेंद्र प्रसाद,मौलाना आज़ाद,सरदार पटेल,जयप्रकाश नारायण जैसी महान विभूतियाँ कांग्रेस और देश का नेतृत्व कर रहीं थीं तब क्या भ्रष्टाचार का मुद्दा प्रासंगिक हो सकता था,राष्ट्र को इस पर मंथन करना चाहिये..,
मोदी का भाषण जो लोग लिख रहे हैं उन्हें देश और काल का संभवत ज्ञान नहीं है प्रधान सेवक का जो स्वर्ण युग अब तक चलता रहा है उस पर इस तरह के बयान से प्रश्न चिन्ह खड़े होते हैं..,
एक कहावत है कि लंगूर के हाथ लगे अंगूर ..यह दौर लंगूरवाद के क़रीब से होकर गुज़र रहा है इसलिए एहतियात बरतना राष्ट्रहित में आवश्यक है..,जिस पर लिखना होगा कि-
ग़म,अपने ही
अशकों का
ख़रीदा हुआ
है,वह दौर ए
दस्तूर था जो
गुज़रा हुआ है..,
गांधी बीत गया
पढ़े लिखे हुओं
का दौर गुज़र
गया…अब,
तो अंगूर की
दुकान पर
लंगूर बैठे हैं..,
फिर भी कहते
हैं के,अंगूर खट्टे हैं..!!!

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated