• मादा चीतल की कुएं में गिरने से मौत,कुत्तों के झुंड के हमलों से बचने भागी थी
  • रेलवे लाइन क्रॉस करते हुए भालू की ट्रेन से कटकर मौत…,नागपुर रोड से बिश्रामपुर रेलवे लाइन के बीच दर्री टोला के पास उजियारपुर की घटना
  • प्रार्थी पर जानलेवा हमला के बाद, केल्हारी थाना प्रभारी पर आरोपी के ऊपर नरम रुख अख्तियार करने का आरोप
  • जांच नहीं होने देने रोकने, सत्य को छिपाने, सबूतों का दबाने का खेल छत्तीसगढ़ की ही तरह दिल्ली की सरकार में भी जारी है:-कांग्रेस
  • प्रशासन की लापरवाही से ग्रामीण दूषित पानी पीने को मजबूर, पूरा गांव चर्म रोग के शिकार
  • मिशन उराँव समाज के विरोध से कांग्रेस में घमासान,पार्टी की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही

एससी, एसटी एवं अन्य पिछडा वर्ग की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति हेतु आवेदन की स्वीकृति एवं वितरण की कार्यवाही आनलाईन

आदेशों को लाॅक करने हेतु समय सीमा में वृध्दि

बैकुंठपुर । आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त ने आज यहां बताया कि जिले में संचालित समस्त शासकीय, अशासकीय महाविद्यालय, शिक्षा महाविद्यालय, डाईट, आई.टी.आई., पालीटेक्निक एवं नर्सिंग आदि के संस्था प्रमुख, छात्रवृत्ति प्रभारी एवं उनमें अध्ययनरत अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के विद्यार्थियों जो शिक्षा सत्र 2018-19 में विभाग द्वारा संचालित पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति वितरण की पात्रता रखते हैं, उन्हें पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति हेतु आवेदन की स्वीकृति एवं वितरण की कार्यवाही वेब साईट पर आनलाईन की जा रही है। जिसके अंतर्गत विद्यार्थियों के पंजीयन एवं संस्थाओं को प्रस्ताव, स्वीकृति लाक करने हेतु विभाग द्वारा पूर्व में निर्धारित समय सीमा में वृध्दि कर दी गई है, जिसके अनुसार विद्यार्थियों द्वारा आनलाईन आवेदन हेतु (नवीन एवं नवीनीकरण) 31 जनवरी से 28 फरवरी 2019 तक, ड्राफ्ट प्रपोजल लाक करने हेतु 31 जनवरी से 15 मार्च 2019 तक, सेंक्शन आर्डर लाक करने हेतु 31 जनवरी से 25 मार्च 2019 तक एवं संस्थाओं द्वारा केवाईसी जमा करने हेतु 30 मार्च 2019 तक नियत की गई है।
उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथियों के पश्चात् शिक्षा सत्र 2018-19 की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति हेतु आवेदन स्वीकृत नहीं किये जावेंगे एवं ड्राफ्ट प्रपोजल लाक करने अथवा सेंक्शन आर्डर लाक करने का अवसर भी प्रदान नहीं किया जावेगा। उक्त तिथि तक कार्यवाही पूर्ण नहीं करने पर यदि संबंधित विद्यार्थी छात्रवृत्ति से वंचित रह जाते हैं तो इसके लिए संस्था प्रमुख स्वतः जिम्मेदार होंगे।

About VIDYANAND THAKUR

Leave a reply translated

Newsletter