• कांग्रेस नेता नितिन भंसाली के शिकायत पर आबकारी विभाग में करोड़ों रुपयों के भ्रष्टाचार करने वाले समुद्र सिंह के ठिकानों पर तड़के सुबह ईओडब्ल्यू की छापेमारी
  • काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!
  • भूपेश बघेल सरकार के 60 दिन के काम के आगे नही चली
  • श्रीलंका ब्लास्ट आई.एस.आई.एस. का अक्षम्य अपराध – रिजवी
  • पूर्व मुख्यमंत्री के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता डीकेएस अस्पताल घोटाला और ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि का वेतन घोटाला उजागर करने पर मुझ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है : विकास तिवारी
  • जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तनखा के पक्ष में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लेंगे सभायें

लोकसभा निर्वाचन के लिए मतदाता सूची पुनरीक्षण का कार्य निर्धारित समय पर पूर्ण करें- सुब्रत साहू

लोकसभा निर्वाचन के लिए मतदाता सूची पुनरीक्षण का कार्य निर्धारित समय पर पूर्ण करें- सुब्रत साहू

आगामी 12 व 13 फरवरी को रिटर्निंग आॅफिसरों सहित कलेक्टर्स और सहायक रिटर्निंग आॅफिसरों का सर्टिफिकेशन कोर्स रायपुर में होगा

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग में निर्वाचन तैयारियों को लेकर दिए कई अहम निर्देश

बैकुंठपुर । लोकसभा निर्वाचन-2019 के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने निर्वाचन कार्य में तेजी लाने सभी कलेक्टर्स एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि सुगम, निष्पक्ष और स्वतंत्र निर्वाचन पूर्ण कराने के लिए निर्वाचन के हर पहलु को गंभीरता से लिया जाए।
उन्होंने कल 7 फरवरी को यहाँ मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के सभी कलेक्टर्स एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों के साथ लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों की जानकारी लेकर उसकी समीक्षा भी की। वीडियों काॅन्फ्रेंसिंग में बताया गया कि आगामी 12 व 13 फरवरी 2019 को राजधानी रायपुर में प्रदेश के सभी रिटर्निंग आॅफिसर सहित कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों और सहायक रिटर्निंग आॅफिसरों का दो-दिवसीय सर्टिफिकेशन कोर्स आयोजित किया जाएगा। इसके लिए इन अधिकारियों से कहा गया है, कि वे भारत निर्वाचन आयोग के मार्गदर्शी बिन्दुओं का अध्ययन कर ले।

श्री साहू ने मतदाता सूची पुनरीक्षण, वेब काॅस्टिंग के लिए मतदान केन्द्रों के चयन, वोटर हेल्पलाईन, मतदाता जागरूकता कार्यक्रम, विभिन्न निगरानी समितियों के गठन सहित अन्य विषयों पर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने जिला स्तर पर गठित होने वाली विभिन्न निगरानी समितियों, सेक्टर अधिकारियों और दलों के गठन हेतु अधिकारियों का चयन कर, उन्हें प्रशिक्षण जल्द से जल्द दिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि लोकसभा निर्वाचन के लिए आदर्श-आचार संहिता लागू होने के साथ ही सभी समितियां और दल अपना काम कुशलता से कर सकें, इसलिए टीम का गठन और उनका प्रशिक्षण तत्काल पूर्ण कर लिया जाए।
सीईओ श्री साहू ने कहा कि विशेष मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 22 फरवरी तक किया जाना है। ऐसे में नए मतदाताओं का नाम जोड़े जाने, नाम हटाने तथा संशोधन की प्रक्रिया को शेड्यूल अनुसार समय पर पूर्ण किया जाए। जिलों में वोटर अवेयरनेस फोरम का गठन किया गया है, जिनके सहयोग से मतदाता जागरूकता कार्यक्रम तेजी से चलाया जाए। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारियों से मतदान और मतगणना केन्द्र में किसी भी प्रकार के परिवर्तन के लिए समय पर प्रक्रिया शुरू करने को कहा है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि विधानसभा निर्वाचन के दौरान मतदान केन्द्रों से वेबकास्टिंग की गई थी जो लोकसभा निर्वाचन के दौरान भी किया जाएगा। इस हेतु मतदान केन्द्रों का चयन कर सूची शीघ्र भेजे जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिलों में स्थापित मतदाता सहायता केन्द्रों की गहन एवं सतत् निगरानी के लिए सभी जिला सम्पर्क केन्द्रों में सीसीटीव्ही कैमरे लगाने के निर्देश दिए।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री साहू ने बताया कि निर्वाचन पूर्व प्रदेश स्तर से लेकर जिला स्तर के अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम जारी किया गया है। आगामी 11 फरवरी से शुरू हो रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान नोडल अधिकारियों, सेक्टर अधिकारियों, मीडिया मॉनिटरिंग कमेटी, मतदान दल से लेकर माइक्रो आब्जर्वर का प्रशिक्षण होगा। यह प्रशिक्षण 11 फरवरी से शुरू होकर लगातार चलेगा।
वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के दौरान अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. एस. भारतीदासन, संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी समीर विश्नोई, उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वय यू.एस. अग्रवाल और श्रीकांत वर्मा, सहायक मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुश्री शारदा अग्रवाल सहित निर्वाचन कार्य से जुड़े अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

About VIDYANAND THAKUR

Leave a reply translated

Translate »