• अमलीडीही खदान में रेत उत्खनन के गोरख धंधे से क्षेत्र के लोग परेशान ,सफेद नकाब पोष नेताओ की फौज है शामिल
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी पर देश की जनता की तरह दिल्ली की जनता को भी पूर्ण विश्वास है-मनोज तिवारी
  • ईव्हीएम मशीनों को दोहरे ताले से किया गया सील
  • Gulab ka Sharbat
  • Bel Ka Juice
  • भारतीय अर्थव्यवस्था

जशपुर जिला की शान यज्ञेश से ख़ास चर्चा ,वैज्ञानिक बनना चाहता है यज्ञेश

जशपुर जिला की शान यज्ञेश से ख़ास चर्चा ,वैज्ञानिक बनना चाहता है यज्ञेश

आज का दिन संवाददाता सुमीत सोनी का यज्ञेश से ख़ास चर्चा

यज्ञेश ने बढ़ाया जिला का मान

10 वीं की परीक्षा में जिले का मान बढ़ाने वाले यज्ञेश चौहान स्पेस साइंटिस्ट बनना चाहता है।उसे मेरिट टॉप आने की सूचना डीएम प्रियंका शुक्ला ने दी। जैसे ही वह उक्त जानकारी सुना ख़ुशी से झूम उठा।उसे लगा की उसका संकल्प में पढ़ने का निर्णय सार्थक रहा।उक्त बातें यज्ञेश ने हमारे संवाददाता से ख़ास चर्चा के दौरान कहा।यज्ञेश ने बताया कि वो एक साधारण परिवार से है उसके पिता और माता दोनों की शिक्षक है।जिनके संस्कार और मार्गदर्शन की बदौलत वह संकल्प के ड्रीम 30 तक पहुंचा।जहाँ जशपुर कलेक्टर प्रियंका शुक्ला सहित संकल्प के शिक्षकों की कड़ी मेहनत और निरंतर मार्गदर्शन के बदौलत वह इस मुकाम को छू पाया है।यज्ञेश ने बताया कि वह 12 वीं तंक की पढ़ाई संकल्प में रह कर ही करना चाहता है उसके बाद आईआईटी कर के स्पेस साइंटिस्ट बनने का सपना है।उसे उम्मीद है कि वो अपने सपने को साकार करने में कोई भी कसर नहीं छोड़ेगा।

परिवार की स्थिति

यज्ञेश ने बताया कि उसका परिवार शिक्षीत के साथ साथ बहुत ही साधारण है।उसके माता पिता दोनों सरकारी शिक्षक हैं,पिता दिलीप चौहान पत्थलगाँव के कछार मिडिल स्कुल में टीचर है वहीँ माता मधुमती चौहान कांसाबेल विकासखंड मे शिक्षक के रुप में पदस्थ हैं। वहीँ बड़ी दीदी कांसाबेल में आईसेक्ट कंप्यूटर में टीचर है,उससे छोटी दीदी बिलासपुर मेंएमएससी मैथ्स तथा तीसरी दीदी बीएससी मैथ्स कर रही है। 3 बहनों के बीच 1 भाई होने के कारण सभी का स्नेह और प्यार उसे भरपूर मिलता है।जिनके अथक विस्वास से सराबोर हो वह आगे बढ़ने की सोचता है।

संकल्प का माहौल सबसे अच्छा

यज्ञेश ने बताया कि संकल्प का माहौल पॉजिटिव है।यहाँ के शिक्षक परिवार के तरह व्यवहार कर घर की कमी कभी नहीं होने देते है।यहाँ के माहौल और पढ़ाई का स्तर का ही परिणाम है कि रिजल्ट सबसे अच्छा आया है।यहाँ रह कर पढ़ने वाले बच्चों का लगातार हौसला अफजाई करने जशपुर कलेक्टर का भी पूरा पूरा योगदान रहा है।जिसके द्वारा हर त्योहारों सहित बच्चों के जन्मदिवस पर खुशियां साझा कर बच्चों का उत्साह बढ़ाया जाता रहा है।संकल्पके जैसा माहौल वाला संस्था सभी जिला में यदि खुल जाए तो निश्चित ही राज्य में शिक्षा का स्तर काफी ऊंचा होगा।

संकल्प को कभी नहीं भूल सकता

यज्ञेश ने बताया कि उसके लाइफ में सबसे यादगार पल के रूप में संकल्प है जिसे वह कभी भी नहीं भूल सकता।संकल्प के शिक्षक सहित यहाँ के दोस्त उसे जिंदगी भर याद रहेंगे।यज्ञेश ने बताया कि रुस्तम उसका सबसे अच्छा दोस्त है।जिसके साथ वह अपना सुख दुख बंटता है।

About Prashant Sahay

2 comments

  1. Meher Uplenchwar
    May 9th, 2018 17:06

    Nice bro..keep it up..

  2. Prince malik
    May 9th, 2018 19:10

    Very good tumhari didi kansabel Aisect ki teacher h aur hum unke student h

Leave a reply translated

Translate »