• पत्थलगांव से युवा कावरियों का पहला जत्था हुआ देवघर रवाना
  • विधायक डॉ. विनय की पहल लाई रंग, ओलावृष्टि से नुकसान हुए किसानों को मिला मुआवजा राशि
  • नागपुर हाल्ट से चिरमिरी के बीच नई रेल लाईन का कार्य शीघ्र प्रारम्भ कराने हेतु राज्य की 50% राशि के आबंटन हेतु महापौर ने विधानसभा अध्यक्ष को सौपा पत्र
  • एक ही कक्ष में पढ़ रहे पहली से पांचवीं तक के बच्चे,,,,हाय ये कैसा विकास-विस्तार से जानने के लिए पढ़ें-Aajkadinnews.com
  • वर्षों पुराने वृक्ष एन.एच.43 के किनारे के काटे और लगाया रिजर्व फारेस्ट तपकरा में
  • नितिन भंसाली ने सुपर 30 फ़िल्म को छत्तीसगढ़ के सिनेमाघरों में टैक्स फ्री किये जाने का मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से अनुरोध किया
  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • nasir
  • halim
  • pawan
  • add hiru collage
  • add sarhul sarjiyus
  • add safdar hansraj
  • add harish u.d.
  • add education 01

चिरायु योजना के लिए डीकेएस अस्पताल बनेगा फर्स्ट रेफरल सेंटर, मरीजों के परिजनों के रूकने की होगी व्यवस्था, प्राध्यापकों की होगी भर्ती

चिरायु योजना के लिए डीकेएस अस्पताल बनेगा फर्स्ट रेफरल सेंटर, मरीजों के परिजनों के रूकने की होगी व्यवस्था, प्राध्यापकों की होगी भर्ती

डीकेएस अस्पताल में सभी सेवाओं के लिए होगा नया टेंडर

स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने की अस्पताल की व्यवस्थाओं की समीक्षा

रायपुर. 26 जून 2019. स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने आज यहां नवीन विश्राम भवन में डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट एवं रिसर्च सेंटर के व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने स्वशासी समिति की बैठक में सुपरस्पेशियालिटी अस्पताल के अनुरूप लोगों को इलाज उपलब्ध कराने और व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश अस्पताल प्रशासन को दिए। उन्होंने एजेंसियों के माध्यम से वहां ली जा रही सुविधाओं के लिए नया टेंडर जारी करने कहा। स्वशासी समिति की बैठक में चिरायु योजना के तहत ऑपरेशन के लिए डीकेएस अस्पताल को फर्स्ट रेफरल सेंटर के रूप में मान्यता देने का निर्णय लिया गया।

स्वास्थ्य मंत्री ने बैठक में कहा कि डीकेएस अस्पताल में नई शुरूआत की जरूरत है। वहां सभी व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करने नए सिरे से काम करना होगा। उन्होंने कहा कि लोगों को कम खर्च में उत्कृष्ट इलाज की सुविधा मिले, इसके लिए वहां उच्च स्तरीय व्यवस्था जरूरी है। श्री सिंहदेव ने वहां पूर्व में बिना विभागीय अनुमोदन और प्रक्रिया के किए गए कार्यों को निरस्त करने कहा। उन्होंने इस संबंध में किसी भी तरह का भुगतान नहीं करने के निर्देश अस्पताल प्रबंधन को दिए। उन्होंने अनावश्यक खर्चों और गैरजरूरी मानव संसाधन को खत्म करने के निर्देश दिए।

श्री सिंहदेव ने डीकेएस अस्पताल के स्वशासी समिति की बैठक में मरीजों के परिजनों के रूकने के लिए तथा केन्द्रीय दवा भंडार के लिए नए भवन के निर्माण की स्वीकृति दी। डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट में व्याख्याताओं-प्राध्यापकों के रिक्त पदों पर भर्ती की मंजूरी भी दी गई। श्री सिंहदेव ने अस्पताल परिसर में संचालित फॉर्मेसी सहित अन्य दुकानों को तत्काल खाली कराते हुए उनके दोबारा आबंटन की प्रक्रिया शुरू करने कहा। उन्होंने अस्पताल की आय बढ़ाने के लिए पारदर्शी तरीके से इन्हें आबंटित करने कहा। उन्होंने प्रमाणित एजेंसी से अस्पताल में अग्नि सुरक्षा और विद्युत सुरक्षा संबंधी ऑडिट यथाशीघ्र कराने के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य मंत्री ने अस्पताल में मानव संसाधन, उपकरण, जांच, दवाई और अन्य व्यवस्थाओं पर हर महीने होने वाले खर्च का ब्यौरा मांगा। उन्होंने अस्पताल को शासन से और विभिन्न सेवाओं के एवज में मरीजों से मिलने वाली राशि की भी जानकारी मांगी। उन्होंने अस्पताल प्रबंधन से आय-व्यय की जानकारी एक सप्ताह में उपलब्ध कराने कहा। बैठक में स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह, आयुक्त स्वास्थ्य सेवाएं श्री भुवनेश यादव, संचालक चिकित्सा शिक्षा एवं डीकेएस अस्पताल के अधीक्षक डॉ. एस.एल. आदिले, वित्त विभाग व जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ स्वशासी समिति के सदस्य मौजूद थे।

About vidyanand Takur

Leave a reply translated

  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • Samwad 04
  • samwad 03
  • samwad 02
  • samwad 01
  • education 04
  • education 03
  • education 02
  • add seven