• एक्सक्लूसिव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान बिरयानी खाने नहीं दाऊद इब्राहिम से गठजोड़ करने गए थे,भाजपा के कई नेताओं का है संबंध दाऊद इब्राहिम से: अबु आसिम आजमी
  • पूर्ण चन्द्र पाढ़ी कोको के नेतृत्व में कल दिल्ली में जमा होंगे छत्तीसगढ़ के युवा कांग्रेसी
  • राहुल गांधी का मजाक उड़ाने का मामला: हरीश लकमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी लईका है,कांग्रेस को बर्बाद कर दूंगा आदि शब्दों से मचा बवाल
  • हरीश लखमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी को लेकर किया टिप्पणी से मचा बवाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,अगला 36 घंटे काफी अहम्
  • बैकुंठपुर: चोरी के आरोपी समान सहित धराये

दुबछोला में केंद्रीय विद्यालय खोलने के लिए विधायक डॉ. विनय ने केंद्र सरकार को लिखा पत्र

दुबछोला में केंद्रीय विद्यालय खोलने के लिए विधायक डॉ. विनय ने केंद्र सरकार को लिखा पत्र

“अफ़सर अली”

मानव संसाधन एवं विकास मंत्री नई दिल्ली, आयुक्त केंद्रीय विद्यालय संगठन नई दिल्ली, स्कूल शिक्षा मंत्री को कलेक्टर की अनुशंसा के साथ भेजा पत्र

चिरमिरी । मनेन्द्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विधायक डॉ. विनय जायसवाल ने विकासखण्ड खड़गवां के दुबछोला में केंद्रीय विधायक स्थापना के हेतु पत्र जारी कर जिला कलेक्टर के अनुशंसा के साथ प्रस्ताव छत्तीसगढ़ शासन स्कूल शिक्षा अनसूचित जनजाति अन्य पिछड़ा वर्ग अल्प संख्यक कल्याण सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह को पत्र भेज कर त्वरित कार्यवाही हेतु केन्द्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय नई दिल्ली को भेजने का आग्रह किया है। विधायक डॉ. विनय ने आगे पत्र में लिखा है कि विकासखण्ड में केंद्रीय विद्यालय की उपयोगिता एवं क्षेत्र में विद्यालय प्रारंभ किये जाने की संभावनाओ का उल्लेख करते हुए बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा चलाये जाने वाले प्राथमिक पूर्व माध्यमिक एवं मध्यमिल विद्यालय तो पर्याप्त मात्रा में है किंतु केंद्रीय स्तर की कोई भी शिक्षण संस्था क्षेत्र में नही है अतः केंद्रीय स्तर का विद्यालय खुलने की महती आवश्यकता है। जहाँ पर आदिवासी बहुल छात्र-छात्राओं को इसका लाभ मिलता रहे।

उन्होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि आज शहरी क्षेत्रों में केंद्रीय स्तर के शैक्षणिक संस्थानों में पठन-पाठन के तुलना में ग्रामीण अंचल के छात्र-छात्राओं को सुविधा नही है। जिससे क्षेत्र के मेघावी छात्र-छात्राएं भी उचित मार्गदर्शन के आभाव में नगरीय छात्र-छात्राओं से प्रतिस्पर्धा में पिछड़ जाते है। क्षेत्र में विद्यालय खोले जाने की सम्पूर्ण संभावनाएं भी उपलब्ध है । तहसीलदार खड़गवां से विद्यालय हेतु भूमि की उपलब्धता के बारे में जानकारी लेने पर उन्होंने ग्राम दुबछोला में चौक से लेकर बैकुंठपुर मार्ग पर 100 मीटर की दूरी पर हाईस्कूल से लगा हुआ दो खण्ड भूमि खसरा क्रमांक 569/575/ क्रमशः रकबा 4.667 एवं 2.023 विद्यालय भवन आवसीय परिसर एवं क्रियागण हेतु पर्याप्त भूमि की उपलब्धता बताया है। विकासखण्ड खड़गवां का सभी ग्रामीण क्षेत्र विद्यालय स्थल से पक्की सड़क से जुड़ा हुआ है जो क्षेत्र के छात्र-छात्राओं के आवगमन को सुलभ बनाएंगे क्षेत्र की सघन जनसंख्या से विद्यालय में अध्ययन करने के लिए पर्याप्त मात्रा में छात्र-छात्राएं उपलब्ध होंगे वर्तमान में एक मात्र केंद्रीय विद्यालय डोमनहिल चिरमिरी में अध्ययन हेतु इच्छुक विद्यार्थी प्रवेश लेने से वंचित हो जाते है विद्यालय कॉलरी प्रबंधन के सहयोग से चलाए जाने के कारण विद्यालय में कॉलरी कर्मियों के बच्चों को ही प्रवेश पाने की प्राथमिकता रहती है व मात्र कुछ सीटे ही आमजनों के लिए उपलब्ध रहता है जो कि आवेदन तिथि समाप्ति के पूर्व ही भर जाता है।

उन्होंने कहा की यहाँ सैकड़ों की संख्या में छात्र प्रवेश पाने से वंचित रह जाते है जिससे विकासखण्ड खड़गवां के ग्राम दुबछोला में एक केंद्रीय विद्यालय खोला जाना अत्यंत ही आवश्यक होगा। इस संबंध में रमेश पोखरियाल मंत्री मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय नई दिल्ली, आयुक्त केंद्रीय विद्यालय संगठन नई दिल्ली, स्कूल शिक्षा अनुसूचित जनजाति अन्य पिछड़ा वर्ग छ.ग. शासन डॉ. प्रेमसाय सिंह को पत्र लिखते हुए कलेक्टर कोरिया को भी पत्र लिखकर प्रस्ताव शासन को भेजने का आग्रह किया है।

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated