• एक्सक्लूसिव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान बिरयानी खाने नहीं दाऊद इब्राहिम से गठजोड़ करने गए थे,भाजपा के कई नेताओं का है संबंध दाऊद इब्राहिम से: अबु आसिम आजमी
  • पूर्ण चन्द्र पाढ़ी कोको के नेतृत्व में कल दिल्ली में जमा होंगे छत्तीसगढ़ के युवा कांग्रेसी
  • राहुल गांधी का मजाक उड़ाने का मामला: हरीश लकमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी लईका है,कांग्रेस को बर्बाद कर दूंगा आदि शब्दों से मचा बवाल
  • हरीश लखमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी को लेकर किया टिप्पणी से मचा बवाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,अगला 36 घंटे काफी अहम्
  • बैकुंठपुर: चोरी के आरोपी समान सहित धराये

जैन समाज के कार्यक्रम में भूपेश बघेल ने कहा: फसलों,धान,इमली,मक्का,बांस आदि से संबंधित उद्योग लगाएं, स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा तो छ.ग. विकास करेगा

जैन समाज के कार्यक्रम में भूपेश बघेल ने कहा: फसलों,धान,इमली,मक्का,बांस आदि से संबंधित उद्योग लगाएं, स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा तो छ.ग. विकास करेगा

मुख्यमंत्री भुपेश बघेल का जैन समाज ने किया हार्दिक अभिनंदन

रायपुर: रविवार 2 जून को छ.ग. सकल जैन समाज ने मुख्यमंत्री श्री भुपेश बघेल का भव्य स्वागत एवं अभिनंदन किया। सकल जैन समाज के भव्य ऐतिहासिक जैनम मानस भवन (रायपुर एयरपोर्ट के सामने) के विशाल हाल में गजराज पगारिया के नेतृत्व में सकल जैन समाज ने छ.ग. के मुख्यमंत्री का अहो भाव से मनभावन स्वागत किया। जैनम मानस भवन का विशाल हाल जैन समाज के भाई-बहनों की विशाल उपस्थिति से खचाखच भरा हुआ था। अभिनंदन कार्यक्रम का भव्य शुभारंभ JITO जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गनाइजेशन की महिला विंग के स्वागत गीत से हुआ, साथ ही साथ छत्तीसगढ़ी वेषभूषा में गीत एवं नृत्य का शानदार प्रदर्शन भी आकर्षक था। मल्ली महिला मण्डल के राजस्थानी भाषा में स्वागत गीत ने भी मुख्यमंत्री एवं सभी उपस्थित लोगों को आकर्षित किया, तालिया बटोरी।

जैनम मानस समिति के अध्यक्ष श्री महेन्द्र धाड़ीवाल ने समाज की तरफ से मुख्यमंत्री महोदय का हार्दिक स्वागत करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि छ.ग. में जैन धर्म का इतिहास काफी पुराना है। सिरपुर, आरंग, नगपुरा, बकेला आदि जगहों में हजारों साल पुराने जैन इतिहास का पता चलता है, जैन तीर्थकर भगवानों की मूर्ति एवं मंदिरों के प्रमाण मिले है। सिरपुर एवं आरंग में जैन परिवार सैकड़ों की संख्या में था एवं इस क्षेत्र का बड़ा व्यापारिक केंद्र था ऐसा इतिहास मिलता है, जैन समाज व्यापार से जुड़ा हुआ है इमानदारी एवं प्रमाणिकता से व्यापार में विश्वास रखता है व्यापार के माध्यम से अपने परिवार के पालन पोषण के साथ राज्य एवं देश के विकास में सदा सहभागी रहा है। हम अहिंसा में विश्वास रखने वाले लोग है। व्यापार कैसे बढ़े, व्यापारियों को सुविधा मिले, भय मुक्त वातावरण हम चाहते हैं। छत्तीसगढ़ के विकास में आपके साथ कदम से कदम मिलाकर चलने को हम तैयार है, हमारे पूर्वज 125-150 वर्ष पूर्व यहा आए थे, हमें भी यहीं जीना है, मरना है।
महेन्द्र धाड़ीवाल ने मुख्यमंत्री महोदय को ध्यान आकर्षित करते हुए विशेष निवेदन किया कि वर्ष 2021 में जैन धर्म के महान आचार्य महाश्रमण जी मर्यादा महोत्सव करने रायपुर आने वाले है। मर्यादा महोत्सव का गौरवशाली भव्य कार्यक्रम के आयोजन में आपका एवं आपकी सरकार का भी हमें सहयोग चाहिए, हम आपके संपर्क में रहेंगे।
श्री तिलोक बरड़िया ने मुख्यमंत्री महोदय का संक्षिप्त परिचय दिया जिसमें बीच-बीच में सी.एम. ने ठहाका लगाया, आनंदित हुए।
मुख्यमंत्री महोदय का भव्य स्वागत, तिलक, शाल, श्रीफल एवं माल्यार्पण के साथ काफी देर चला, मुख्यमंत्री महोदय को राजस्थानी साफा पहनाकर सम्मान किया गया, साथ ही साथ पधारे पूर्व मंत्री एवं विधायक, सत्यनारायण जी शर्मा, विधायक कुलदीप जुनेजा, जगदलपुर के विधायक रेखचंद जैन, रायपुर निगम के महापौर प्रमोद दुबे, प्रदेष कोषाध्यक्ष राम अवतार अग्रवाल का भी जैन समाज के द्वारा हार्दिक स्वागत किया गया।
नरेन्द्र दुग्गड़ से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री महोदय के द्वारा भगवान महावीर की तस्वीर के सामने दीप प्रज्वलन से कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। मुख्यमंत्री ने अपने उद्बोधन में सर्वप्रथम विलंब से आने का कारण बताते हुए क्षमायाचना की। उपस्थित विषाल जन समूह को अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि भगवान महावीर ने सत्य, अहिंसा अपरिग्रह ब्रम्हचर्य का सिद्धांत युग को दिया। हजारों साल से जैन समाज उन सिद्धांतो पर चलते हुए आज भी जप, तप के माध्यम से जैन धर्म की गरिमा को बढ़ा रहा है, यह विषेष बात है। जैन समाज के लोग वाहनों में, जहाज में चल रहे है, परन्तु जैन आचार्य, साधु-साध्वीगण आज भी पदयात्रा करते हुए आत्म विकास के साथ-साथ लोक कल्याण का महत्वपूर्ण कार्य कर रहे है। महेन्द्र भाई ने 2021 में महाश्रमण जी के आगमन की बात कही, हमारा सौभाग्य है हमें दर्षन सेवा का अवसर प्राप्त होगा, उस महत्वपूर्ण आयोजन में हमारा पूरा सहयोग रहेगा।
जैन समाज का पूरे देश की अर्थव्यवस्था सहयोग में सर्वप्रथम स्थान है यह समाज के लिए गर्व की बात है। मैं आज यहां समाज से आव्हान करता हूं, छ.ग. में व्यापार की अपार संभावनाएं है। आप यहां होने वाली फसलों, धान, इमली, मक्का, बांस आदि से संबंधित उद्योग लगाएं, स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा छ.ग. विकास करेगा। आपको हर तरह से हम सहयोग करने को तैयार हैं। आज यहां आप लोगों ने जो आत्मीय स्वागत किया है वह हमेषा याद रहेगा छोटे बड़े सभी ने उत्साह के साथ भाग लिया है। बच्चों ने ढ़ेर सारी सेल्फी ली,आत्मीय स्वागत कार्यक्रम आयोजन के लिए गजराज पगारिया, महेन्द्र धाड़ीवाल एवं सकल जैन समाज के प्रति आभार व्यक्त किया,कार्यक्रम लगभग 2 घंटे चला। कार्यक्रम पश्चात मुख्यमंत्री महोदय एवं सभी अतिथियों ने राजस्थानी भोजन का आनंद लिया। प्रो. कमल बेंगानी एवं विजय चोपड़ा ने संचालन किया।

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated