• एक्सक्लूसिव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान बिरयानी खाने नहीं दाऊद इब्राहिम से गठजोड़ करने गए थे,भाजपा के कई नेताओं का है संबंध दाऊद इब्राहिम से: अबु आसिम आजमी
  • पूर्ण चन्द्र पाढ़ी कोको के नेतृत्व में कल दिल्ली में जमा होंगे छत्तीसगढ़ के युवा कांग्रेसी
  • राहुल गांधी का मजाक उड़ाने का मामला: हरीश लकमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी लईका है,कांग्रेस को बर्बाद कर दूंगा आदि शब्दों से मचा बवाल
  • हरीश लखमा और कोको पाढ़ी के बीच हुई चैटिंग विवादों में, राहुल गांधी को लेकर किया टिप्पणी से मचा बवाल
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी बघेल का मेडिकल बुलेटिन जारी,अगला 36 घंटे काफी अहम्
  • बैकुंठपुर: चोरी के आरोपी समान सहित धराये

डॉक्‍टर पायल तड़वी ने अपनी फ्रेंड से बातचीत में बताया था कि उसकी सीनियर्स उसे सीखने से रोक रही हैं जिससे वह अपने साथी जूनियर डॉक्‍टरों से भी पीछे होती जा रही हैं..

डॉक्‍टर पायल तड़वी ने अपनी फ्रेंड से बातचीत में बताया था कि उसकी सीनियर्स उसे सीखने से रोक रही हैं जिससे वह अपने साथी जूनियर डॉक्‍टरों से भी पीछे होती जा रही हैं..

नायर हॉस्पिटल में जूनियर डॉक्‍टर पायल तड़वी की आत्‍महत्‍या मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। डॉक्‍टर पायल ने अपने एक मित्र से वाट्स ऐप पर जो बातचीत की थी उसका स्क्रीनशॉट सामने आया है जिसमे उसने अपने आत्महत्या की बात कही है। डॉक्‍टर पायल ने लिखा है कि माता-पिता को भी इस बात का डर था कि उनकी बेटी आत्‍महत्‍या कर सकती है।

आपको बता दें कि डॉ. पायल ने 23 मई को आत्‍महत्‍या कर लिया था। पिछले साल नवंबर महीने में डॉक्‍टर तड़वी ने अपनी फ्रेंड से बातचीत में बताया था कि उसकी सीनियर्स उसे सीखने से रोक रही हैं जिससे वह अपने साथी जूनियर डॉक्‍टरों से भी पीछे होती जा रही हैं। बातचीत में एक बार तो डॉक्‍टर पायल ने यहां तक कह दिया कि उन्‍हें अपने माता-पिता को 20 लाख रुपये तैयार रखने के लिए कहा गया है ताकि पीजी की सीट छोड़ने पर राज्‍य सरकार को यह पैसा दिया जा सके।डॉक्टर पायल आत्महत्या मामले में बुधवार को पुलिस ने तीनों आरोपी महिला डॉक्टरों भक्ति मेहेरे, हेमा आहूजा और अंकिता खंडेलवाल को हिरासत में ले लिया। तीनों पर अनुसूचित जनजाति से आने वाली जूनियर डॉक्टर तड़वी पर जातिगत टिप्पणी कर उसे आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है।अपनी फ्रेंड के साथ एक चैट में डॉक्‍टर पायल ने बताया कि किस तरह से उन्‍हें प्रताड़‍ित किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा, ‘अन्‍य डॉक्‍टरों और मरीजों की मौजूदगी में वे मेरे ऊपर चीखते-चिल्‍लाते हैं। वे इतना तेज चिल्‍लाते हैं कि उनकी आवाज को वार्ड के एक कोने से दूसरे कोने तक सुना जा सकता है।’ उन्‍होंने बताया कि सीनियर्स उनको निशाना बनाने के लिए अभद्र भाषा का इस्‍तेमाल करते हैं।पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी होगा बड़ा खुलासा
पुलिस ने बताया कि तड़वी के शरीर पर चोट के निशान पाए गए हैं और इसकी भी जांच जरूरी है। इसके लिए पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। तड़वी के परिवार की ओर से पेश हुए वकील नितिन सतपुते ने आरोप लगाया कि चोट के निशान से पता चलता है कि तड़वी की हत्या की गई है और इसलिए आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया जाना चाहिए। वहीं, आरोपियों के वकील आबाद पोंडा ने दलील दी कि तीनों डॉक्टरों को तड़वी की जाति के बारे में पता भी नहीं था।

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated