• खबर का असर-एक माह से अँधेरे में जीवन काट रहे लोगों की मिली रौशनी,ग्रामीणों ने कहा धन्यवाद आज का दिन
  • कर्नाटका बैंक ने बालाजी मेट्रो हास्पिटल को भेंट की एंबुलेंस,रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक ने पूजा अर्चना कर किया लोकार्पण
  • अखिल छ ग चौहान कल्याण समिति के तत्वाधान में युवा जागृति सामाजिक जन चेतना मासिक सम्मलेन संपन्न
  • आई जी दुर्ग रेंज की पहल रंग लाने लगी,,,वीडियो कॉल द्वारा पुलिस को सुझाव आने लगा
  • महापौर रेड्डी ने डीएव्ही मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल चिरमिरी में खोलने किया मॉंग
  • हल्दीबाड़ी ग्रामीण बैंक के पास आज लगेगा रोजगार मेला

काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!

काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!

“नितिन राजीव सिन्हा”

मोदी का काशी में रोड शो हुआ भगवान विश्वनाथन भी झूम उठे होंगे यह देख कर कि गंगा मैया का लाल आया है शहर में रौनक़ लाया है लिखना होगा कि इक्कीसवीं सदी का महानायक नरेंद्र मोदी है समाचार माध्यम कह रहे हैं वे अजातशत्रु हैं हम उन्हें सलाम कर रहे हैं आगे एक कविता लिख रहे हैं..,
गुलाब की
पंखुड़ियों से
रास्ते अटे हैं
ये कैसा मंज़र
है काँटे नहीं हैं
इन रास्तों में..,
जनता तो नंगे
पाँव चलती है
छिलते हैं पाँव
बहते हैं लहू
रास्ते लहू लुहान
हुए हैं गिरते
हैं पुल,मरते
हैं राहगीर..,
एक दिन की
वो,काशी थी
दिल्ली में
उदासी थी
मन की बात
पर शाबाशी थी
उफ़..नहीं
करती राजनीति
थी..!जनता लहू
की बूँदों से
रास्ते तलाश
लेती है..,ये
तो,नेता हैं
गुलाब की
पंखुड़ियों से
खेलते हैं
पाँव तले
उन्हें रौंदते हैं
अल्फ़ाज़ हैं
उनके,वो फूल
हैं तो अपनी ही
ख़ुशबू में तर
रहें बेवजह क्यूँ
हवा की तरह
दर-ब-दर रहें..!!!

काशी में निर्माणधीन ओवर ब्रिज कुछ समय पहले गिरा था क़रीब दो सौ जानें जाया हुई थी,तब मोदी न काशी आये न कुछ बोले थे उसी हादसे का दृश्य..,

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated