• खबर का असर-एक माह से अँधेरे में जीवन काट रहे लोगों की मिली रौशनी,ग्रामीणों ने कहा धन्यवाद आज का दिन
  • कर्नाटका बैंक ने बालाजी मेट्रो हास्पिटल को भेंट की एंबुलेंस,रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक ने पूजा अर्चना कर किया लोकार्पण
  • अखिल छ ग चौहान कल्याण समिति के तत्वाधान में युवा जागृति सामाजिक जन चेतना मासिक सम्मलेन संपन्न
  • आई जी दुर्ग रेंज की पहल रंग लाने लगी,,,वीडियो कॉल द्वारा पुलिस को सुझाव आने लगा
  • महापौर रेड्डी ने डीएव्ही मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल चिरमिरी में खोलने किया मॉंग
  • हल्दीबाड़ी ग्रामीण बैंक के पास आज लगेगा रोजगार मेला

पूर्व मुख्यमंत्री के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता डीकेएस अस्पताल घोटाला और ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि का वेतन घोटाला उजागर करने पर मुझ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है : विकास तिवारी

कांग्रेस प्रवक्ता पर प्रतिबंध लगाने की मांग, भाजपा की राजनैतिक विद्ववेश की मानसिकता है : कांग्रेस 
रायपुर- छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने छत्तीसगढ़ भाजपा के मीडिया विभाग प्रभारी नलिनीश ठोकने द्वारा समस्त मीडिया चैनलो के प्रबंधको को पत्र लिखकर उन्हें प्रतिबंधित करने की मांग को राजनैतिक विद्ववेष की भावना से प्रेरित बताया है। पूर्व में भी प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता द्वारा ऐसे ही टीवी चैनल के डिबेट में कही गयी बातो को लेकर उन्हें वर्ष 2017 में आईपीसी की धारा 499/500 के तहत नोटिस भेज कर माफी मांगने या 50 लाख रूपया के मानहानी का मुकदमा दर्ज करने का पत्र भाजपा के विधी प्रकोष्ठ के वकील मनोज छाबड़ा के मार्फत भेजवाया गया था। 
प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि भाजपा के मीडिया विभाग के द्वारा दिनांक 23 अप्रैल 2019 के जिस परिचर्चा (डिबेट) में उन पर अशोभनीय भाषा का प्रयोग करने का झूठा आरोप लगाकर  प्रतिबंध लगाने की मांग कर रही है, उस परिचर्चा में एैसी किसी भी भाषा का प्रयोग ही नहीं किया गया है। पूरे तथ्यात्मक एवं दस्तावेजी प्रमाण के आधार पर जवाब दिया गया। सच्चाई के उजागर होने पर भाजपा के प्रवक्ता तिलमिला गये और बौखलाकर भाजपा के मीडिया प्रभारी से विभिन्न चैनलों में कांग्रेस प्रवक्ता को प्रतिबंधित करने का लिखवाया गया है। 
प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि भाजपा को सबसे पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिये जो अपने प्रवक्ताओं द्वारा लगातार यूपीए चेयरपर्सन श्रीमति सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी एवं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ अपशब्दो एवं अर्नगल भाषा का प्रयोग टीवी न्यूज चैनल के परिचर्चा के दौरान करती है। किस हक से भाजपा टीवी चैनलो के प्रंबधको को पत्र लिखकर प्रतिबंधित करने की मांग की है? प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा है कि जिस टीवी डिबेट पर अशोभनीय भाषा कहने पर आरोप लगा रही है। उसके फुटेज की जांच की जाये तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा। 
प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि उनके द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता द्वारा डीकेएस अस्पताल में करोड़ो रूपये के अनियमितताओं के जांच मांग की शिकायत एवं पूर्व ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि को दिये जा रहे लाखों रूपये के वेतन के जांच हेतु लिखे गये पत्र से तिलमिला कर भाजपा द्वारा मुझ पर अर्नगल तथ्यहीन एवं मनगढ़ंत आरोप लगाकर प्रदेश के प्रतिष्ठित न्यूज चैनलो के प्रतिबंध लगाने की मांग सुनियोजित साजिश के तहत की गयी है। इस प्रकार का प्रतिबंध भाजपा की हताशा को प्रदर्शित करती है। विकास तिवारी ने कहा कि मैं ऐसी साजिशो से में घबराता नहीं हूं और भविष्य में भी मेरे द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह एवं उनके सरकार के घोटालो को उजागर करने का काम अनवरत किया जायेगा। भाजपा के द्वारा लगाये गये प्रतिबंध से मैं भयभीत होने वाला नहीं हूं। 

About Prashant Sahay

Leave a reply translated