• खनन में काम करने वालों को सुरक्षा, सम्मान और उपचार की जरुरत: यू.एन.
  • पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य विजय पटेल ने रेल प्रबंधक और डीआरएम को पत्र लिखकर बताया चिरमिरी मनेंद्रगढ़ सेक्शन की गंभीर समस्याएं
  • खानपान की स्वतंत्रता के साथ अंडों के पक्ष में है माकपा
  • 2018-19 का भवन आजतक निर्माण नही हो पाई तो सीईओ ने निर्देश दिया 30 जुलाई तक पूर्व नही हुआ तो सस्पेंड कर दिया जाएगा सचिव को
  • छोटा बाजार में हिन्दू सेना के महिला विंग की समीक्षा बैठक सम्पन्न
  • 8 सालो से आंगनबाड़ी केंद्र नही होने से घर पर ही बच्चों को सिखया जा रहा है
  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • nasir
  • halim
  • pawan
  • add hiru collage
  • add sarhul sarjiyus
  • add safdar hansraj
  • add harish u.d.
  • add education 01

डॉ. रमन सिंह के नजदीकी रिश्तेदार के इशारे ओर संरक्षण में स्वास्थ्य विभाग द्वारा मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी में करोड़ो के घोटाले की नितिन भंसाली ने की शिकायत

डॉ. रमन सिंह के नजदीकी रिश्तेदार के इशारे ओर संरक्षण में स्वास्थ्य विभाग द्वारा मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी में करोड़ो के घोटाले की नितिन भंसाली ने की शिकायत

बीजेपी सरकार के कार्यकाल में वर्ष 2017 में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नजदीकी रिश्तेदार के इशारे ओर संरक्षण में स्वास्थ्य विभाग द्वारा मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी में करोड़ो के घोटाले के 104 पन्नो के दस्तावेजो के साथ नितिन भंसाली ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री ओर ईओडब्ल्यू में करते हुए कार्यवाही की मांग की

कांग्रेसी कार्यकर्ता नितिन भंसाली ने आज बीजेपी के शासनकाल में वर्ष 2017 में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के एक खास रिश्तेदार इशारे ओर संरक्षण में स्वास्थ्य विभाग द्वारा शासन की बिना अनुमति के सारे नियम कायदे कानून की धज्जियां उड़ाते हुए मनमाने तरीके से 13 करोड़ 7 लाख रुपये की मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी में करोड़ो के घोटाले का आरोप लगाते हुए मुख्य 6 बिंदुओं में 104 पन्नो के दस्तावेजो के साथ इसकी शिकायत प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, स्वास्थ्य मंत्री श्री टी एस सिंहदेव, ईओडब्ल्यू ओर शासन के वरिष्ठ अधिकारियो से करते हुए इस घोटाले की जांच करवाते हुए दोषियों के खिलाफ जनहित में कड़ी कार्यवाही किये जाने का अनुरोध किया है..
आज एक प्रेस विज्ञप्ति में कांग्रेस कार्यकर्ता नितिन भंसाली ने बताया कि छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन लिमिटेड को डायरेक्टर हेल्थ सर्विस से दिनांक 23/02/2016 को डायरेक्टर ऑफ हेल्थ सर्विसेस “डीएचएस” से 441 दवाइयों की खरीदी किये जाने का पत्र प्राप्त हुआ जिसके लिए छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा दिनांक 11/08/2016 को ऑनलाइन टेंडर जारी किया गया,विभाग ने टेंडर में विलंब होने का बहाना बनाते हुए Burea of Pharma PSVS of India “BPPI” के माध्यम से अनुमोदित दरों पर जरूरी 23 दवाइयों की खरीदी के लिए प्रस्ताव डायरेक्टर ऑफ हेल्थ सर्विसेस “DHS” को भेजा जिस आधार पर DHS ने वर्ष 2016-17 के लिए 23 जरूरी दवाइयों की खरीदी के लिए DC&I “Department of Commerce and Industries” से वर्ष 2016-17 के लिए बिना टेंडर प्रक्रिया के इन जरूरी दवाइयों की खरीदी के लिए अनुमति मांगी. विभाग द्वारा मल्टीविटामिन सिरप (ड्रग कोड D-696) जिसकी तीन महीने की जरूरत 5058540 (पचास लाख अनठावन हज़ार पांच सौ चालीस) बोतल 100 एमएल प्रति बोतल बनाई गई, BPPI द्वारा दिनांक 28 जनवरी 2017 को विभाग को दिए गए मूल्य 200 एमएल बोतल के लिए 27.64 रुपये प्रति बोतल बताया गया था, इस संबंध में छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन लिमिटेड ने दिनांक 8 मार्च 2017 को DHS से 200 एमएल वाली मल्टीविटामिन सिरप की बोतल खरीदी किये जाने की अनुमति मांगी जिस पर डायरेक्टर ऑफ हेल्थ सर्विसेस DHS ने दिनांक 27 मार्च 2017 को इसकी अनुमति न देते हुए छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन लिमिटेड CGMSC के प्रस्ताव को निरस्त करते हुए 200 एमएल की मल्टीविटामिन सिरप की बोतल की खरीदी के बजाय मल्टीविटामिन टेबलेट (ड्रग कोड D-63) खरीदने के आदेश दिए.
नितिन भंसाली ने बताया कि इस विषय मे छ.ग.मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन द्वारा डायरेक्टर ऑफ हेल्थ सर्विस DHS के आदेश को रद्दी की टोकरी में डालते हुए नियमो ओर आदेशो की अवहेलना करते हुए तत्कालीन सरकार के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के बेहद करीबी रिश्तेदार के इशारे, दबाव और संरक्षण में मनमाने तरीके से 18 रुपये प्रति बोतल की दर से 100 एमएल पेकिंग की मल्टीविटामिन सिरप की आवयश्कता से अधिक मात्रा में शासन को हानि पोहचाते हुए पूर्व अनुमोदित मात्रा से लगभग 24 लाख बोतल अधिक खरीदते हुए कुल 7394500 (तिहत्तर लाख चोरानबे हज़ार पांच सौ) बोतल की खरीदी के 4 क्रय आदेश Beuro of Pharma PSVS of India (BPPI) को जारी किए जिसका कुल मूल्य 13.31 करोड़ (तेरह करोड़ इकतीस लाख) रुपये थी.
नितिन भंसाली ने बताया कि CGMSC द्वारा अवैधानिक रूप से मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी के जो क्रय आदेश जारी किए गए थे उसके मुताबिक भी नियमो के अनुसार क्रय आदेश जारी होने की दिनांक से 90 दिनों के भीतर इसकी आपूर्ति की जानी थी इस संबंध में BPPI ने अक्टूबर 2017 में कुल 7259250 (बहत्तर लाख उनसठ हज़ार दो सौ पचास) बोतल की आपूर्ति अपने लोकल एजेंट *मेसर्स नाहर मेडिकल एजेंसी* के माध्यम से 76 से 95 दिनों की देरी से की थी.
नितिन भंसाली ने बताया कि छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन CGMSC द्वारा अनैतिक ओर अवैधानिक तरीके से शासन के सारे नियम कायदे कानून की धज्जियां उड़ाते हुए BPPI को मल्टीविटामिन सिरप के खरीदी के आदेश बेक डेट में जारी किए गए जबकि शासन के नियम के अनुसार 23 जरूरी दवाइयों की खरीदी की अंतिम तिथि दिनांक 31 मार्च 2017 निर्धारित की गई थी लेकिन यहा पर CGMSC ने मिलीभगत कर उच्चस्तरीय संरक्षण में जालसाजी कर गलत तरीके से अप्रैल 2017 के बाद पिछली तारीखों में बेक डेट में मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी हेतु क्रय आदेश जारी किए जो कि गंभीर घोटाले की ओर इशारा कर रहा है. नितिन ने बताया कि नियम के अनुसार प्रक्रिया के तहत छ.ग.मेडिकल सर्विसेस कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा आपूर्तिकर्ता शासकीय एजेंसी या फर्म को कंप्यूटर जनरेटेड परचेस आर्डर ई मेल के माध्यम से भेजे जाते है लेकिन यहा पर CGMSC के अधिकारियों ने उच्चस्तरीय संरक्षण में मल्टीविटामिन सिरप के नियम विरुद्ध जारी किए गए चारो क्रय आदेश BPPI के लोकल सप्लायर एजेंट मेसर्स नाहर मेडिकल एजेंसी को बाय हैंड निजी तोर पर दिए गए जिन क्रय आदेशो का विभाग के डिस्पेच रजिस्टर में भी कही उल्लेख नही है.
नितिन भंसाली ने बताया कि उन्होंने स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूर्व बीजेपी सरकार के समय तत्कालीन मुख्यमंत्री रहे डॉ.रमन सिंह के नजदीकी रिश्तेदार के दबाव एवं संरक्षण में मल्टीविटामिन सिरप की खरीदी में किये गए करोड़ो के घोटाले की शिकायत आज 104 पन्नो के दस्तवेजो के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, स्वास्थ्य मंत्री श्री टी एस सिंहदेव ओर ईओडब्ल्यू से करते हुए इस घोटाले में लिप्त दोषी अधिकारियों के खिलाफ जनहित में कढ़ी कार्यवाही किये जाने का अनुरोध किया है..

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated

  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • Samwad 04
  • samwad 03
  • samwad 02
  • samwad 01
  • education 04
  • education 03
  • education 02
  • add seven