• कांग्रेस नेता नितिन भंसाली के शिकायत पर आबकारी विभाग में करोड़ों रुपयों के भ्रष्टाचार करने वाले समुद्र सिंह के ठिकानों पर तड़के सुबह ईओडब्ल्यू की छापेमारी
  • काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!
  • भूपेश बघेल सरकार के 60 दिन के काम के आगे नही चली
  • श्रीलंका ब्लास्ट आई.एस.आई.एस. का अक्षम्य अपराध – रिजवी
  • पूर्व मुख्यमंत्री के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता डीकेएस अस्पताल घोटाला और ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि का वेतन घोटाला उजागर करने पर मुझ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है : विकास तिवारी
  • जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तनखा के पक्ष में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लेंगे सभायें

साहू समाज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने समाज का अंग मानने को बिल्कुल भी तैयार नहीं है.

साहू समाज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने समाज का अंग मानने को बिल्कुल भी तैयार नहीं है.

छत्तीसगढ़ में आज चुनाव प्रचार में आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने आप को साहू समाज का हिस्सा बताया है। वरिष्ठ कर्मचारी नेता और साहू समाज के प्रमुख नेता एचपी साहू ने नरेंद्र मोदी के बयान की कड़ी निंदा की है और कहा है उनका यह बयान ईमानदार और मेहनतकश साहू समाज का अपमान है और श्री मोदी को समाज से माफ़ी मांगनी चाहिए। उन्होंने आज प्रेस में जारी एक वक्तव्य में कहा है कि साहू समाज में अपने आप को नरेंद्र मोदी समाहित ना करें क्योंकि साहू समाज नरेंद्र मोदी को अपने समाज का अंग मानने को बिल्कुल भी तैयार नहीं है. उन्होंने कहा है कि साहू समाज एक मेहनतकश और इमानदार समाज है और छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में साहू समाज की मिसाल मेहनतकश किसान ,पढ़े-लिखे वर्ग और ईमानदार समाज के रूप में दी जाती है। साहू समाज में अपनी पहचान छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में ईमानदार मेहनतकश किसान, पढ़े-लिखे वर्ग के रूप में अपने बलबूते पर स्थापित की है. समाज की पहचान प्रबुद्ध और प्रगतिशील वर्ग के रूप मंह की गई है. प्रदेश छत्तीसगढ़ साहू समाज के कोषाध्यक्ष हनुमत प्रसाद साहू ने कहा है कि वहीं नरेंद्र मोदी ने अपने 5 साल के कार्यकाल में बहुत बदनामी ली है। उन्होंने कहा है कि न तो साहू समाज नरेंद्र मोदी के चौकीदार अभियान का हिस्सा है और न ही साहू समाज को चौकीदार को चोर कहे जाने पर आपत्ति है। और यदि समाज का एक व्यक्ति चोर बन जाता है तो इससे पूरा समाज कतई बदनाम नहीं होता। उन्होंने कहा है कि नरेंद्र मोदी को हम चेतावनी देते हैं कि इस प्रकार धर्म के नाम पर चुनाव प्रचार ना करें , उनके धर्म और छद्म राष्ट्रवाद के नाम के चुनाव हथ कंडो को जनता पहचान चुकी है और उनके कुशासन का अंत निकट है देश विदेश ने अलग अलग अदालतों और अखबार समूह ने भ्रष्टाचार और कुशासन ने अब साबित कर दिया है कि नरेंद्र मोदी केवल धर्म और दूसरे अन्य पवित्र साधनों को बदनाम करके वोट और देश को बांटने की राजनीति कर रहे हैं और चुनाव आयोग से मांग है कि धर्म के नाम पर वोट मांगने पर नरेंद्र मोदी को चुनाव प्रचार से तत्काल प्रभाव से अलग किया जाए.

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated

Translate »