• खनन में काम करने वालों को सुरक्षा, सम्मान और उपचार की जरुरत: यू.एन.
  • पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य विजय पटेल ने रेल प्रबंधक और डीआरएम को पत्र लिखकर बताया चिरमिरी मनेंद्रगढ़ सेक्शन की गंभीर समस्याएं
  • खानपान की स्वतंत्रता के साथ अंडों के पक्ष में है माकपा
  • 2018-19 का भवन आजतक निर्माण नही हो पाई तो सीईओ ने निर्देश दिया 30 जुलाई तक पूर्व नही हुआ तो सस्पेंड कर दिया जाएगा सचिव को
  • छोटा बाजार में हिन्दू सेना के महिला विंग की समीक्षा बैठक सम्पन्न
  • 8 सालो से आंगनबाड़ी केंद्र नही होने से घर पर ही बच्चों को सिखया जा रहा है
  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • nasir
  • halim
  • pawan
  • add hiru collage
  • add sarhul sarjiyus
  • add safdar hansraj
  • add harish u.d.
  • add education 01

मोदी सा कमज़ोर नेता,देश का प्रधान सेवक एक बार और कैसे बन सकता है..!!!

मोदी सा कमज़ोर नेता,देश का प्रधान सेवक एक बार और कैसे बन सकता है..!!!

नितिन राजीव सिन्हा//

पाकिस्तान को सबक़ सिखाने के वादे पर चुनाव लड़ रही भाजपा ने जाने अनजाने एक बड़ी भूल कर दी है कि वह नरेंद्र मोदी की मज़बूत पहचान को मिटा दी है देश कुछ महीनों पहले तक उन्हें विकास पुरुष मानता था लेकिन इन दिनों वे पाकिस्तान को डरानें वाले ड्रैगन बन गये हैं लगता है जैसे कश्मीर में मोदी की तस्वीरें सड़कों पर लगा देने मात्र से आतंकी उनसे डर के भाग जायेंगे और मोदी की चुनावी सभाओं में गूँजने वाली दहाड़ें सुनकर पाकिस्तान कहीं कोने में दुबक जायेगा..,

२०१९ के चुनाव में सत्ता धारी दल ने जनता के मुद्दों मसलन अर्थ व्यवस्था,रोज़गार,विकास से हट कर जो नई स्क्रिप्ट तैयार की है उसमें,पाकिस्तान,आतंकवाद और मुस्लिमों को निशाने पर लेने में अपनी सारी ऊर्जा झोंक दी है इसके मायने साफ़ हैं कि मोदी बतौर प्रधान सेवक एक कमज़ोर नेता साबित हुए हैं इसलिये उनके काम पर वोट माँगने का साहस भाजपा नेतृत्व नहीं जुटा पा रहा है इसलिये देश विरोधी ताक़तों पर चुनावी दाँव खेल रहा है..,

लिखना होगा कि १९९६ से पहले पीवी नरसिंहराव की सरकार ने पंजाब से आतंकवाद को ख़त्म कर दिया था और कश्मीर में आतंक के एक अध्याय को नेस्तनाबूद कर वहाँ संगीनों के साये में चुनाव संपन्न करवा देने में सफलता प्राप्त कर ली थी,लेकिन १९९६ के चुनाव में इस बात का ज़िक्र कांग्रेस नेतृत्व ने कहीं नहीं किया था जबकि बिना किसी हासिल के जो चिल्लम पो भाजपा नेतृत्व मचा रहा है वह परिपक्व राजनीतिक प्रचार तो क़तई भी नहीं है..,ध्यान रहे कि कमज़ोर नेता मज़बूत नेतृत्व की दुहाई देता है लेकिन मज़बूत राष्ट्र तो मज़बूत नेता ही खड़ा कर पाता है..,जिस पर लिखना होगा कि-

आसमाँ से

फ़रिश्ते उतर

आयें गर,वो

भी इस दौर

में सच बोलें

तो,गुनहगार

हो जायें..,

कंधार से

पुलवामा तक

वक़्त का

फ़ासला है

हासिल क्या है

ये एक कमज़ोर

इरादा है..!!!

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated

  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • Samwad 04
  • samwad 03
  • samwad 02
  • samwad 01
  • education 04
  • education 03
  • education 02
  • add seven