• खनन में काम करने वालों को सुरक्षा, सम्मान और उपचार की जरुरत: यू.एन.
  • पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य विजय पटेल ने रेल प्रबंधक और डीआरएम को पत्र लिखकर बताया चिरमिरी मनेंद्रगढ़ सेक्शन की गंभीर समस्याएं
  • खानपान की स्वतंत्रता के साथ अंडों के पक्ष में है माकपा
  • 2018-19 का भवन आजतक निर्माण नही हो पाई तो सीईओ ने निर्देश दिया 30 जुलाई तक पूर्व नही हुआ तो सस्पेंड कर दिया जाएगा सचिव को
  • छोटा बाजार में हिन्दू सेना के महिला विंग की समीक्षा बैठक सम्पन्न
  • 8 सालो से आंगनबाड़ी केंद्र नही होने से घर पर ही बच्चों को सिखया जा रहा है
  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • nasir
  • halim
  • pawan
  • add hiru collage
  • add sarhul sarjiyus
  • add safdar hansraj
  • add harish u.d.
  • add education 01

जांच नहीं होने देने रोकने, सत्य को छिपाने, सबूतों का दबाने का खेल छत्तीसगढ़ की ही तरह दिल्ली की सरकार में भी जारी है:-कांग्रेस

जांच नहीं होने देने रोकने, सत्य को छिपाने, सबूतों का दबाने का खेल छत्तीसगढ़ की ही तरह दिल्ली की सरकार में भी जारी है:-कांग्रेस

येदियुरप्पा डायरी के खुलासे से स्पष्ट है,केवल चौकीदार ही नहीं, पूरी भाजपा भ्रष्ट है

शुचिता और मर्यादा, कानून और संविधान, जवाबदेही और जिम्मेदारी से जुड़े सवाल देश पूछ रहा है

छत्तीसगढ़ की ही तरह दिल्ली में जनादेश से ही होगा भ्रष्ट तंत्र का अंत

रायपुर/25 मार्च 2019। येदियुरप्पा डायरी के खुलासे पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि न्यूज मैगजीन ‘कारवां’ द्वारा किये गए महत्वपूर्ण खुलासे को यदि सही है तो इस दावे में ‘येदियुरप्पा डायरी’ के नाम से खबर और डायरी सामने आई है, जिसमे केंद्र की मोदी सरकार और भाजपा संगठन के शीर्ष नेतृत्व के लगभग सारे लोग शामिल हैं। मैग्जीन कारवां की रिपोर्ट में लगाये गये आरोप गंभीर है। इन पर 1800 करोड़ के रिश्वत का इल्जाम है। 1800 करोड़ की रिश्वत लेने वाले ये वो लोग है जो जीरो टॉलरेंस एवं पारदर्शिता का ढोंग रचकर, आडंबर फैलाकर विगत 5 वर्षो से देश को गुमराह करते आ रहे है, जिनके हाथ में देश की रक्षा, वित्त, गृह, प्रधानमंत्री का पूरा कार्यालय और देश की सरकार है। ये वही लोग है जिन्होने 2014 के लोकसभा चुनाव के पूर्व कैग के तत्कालिन प्रमुख विनोद राय की मदद से यूपीए-प्प् सरकार पर भ्रष्टाचार के झूठे और काल्पनिक आरोप लगाये, भ्रम फैलाया और झूठ पर सत्ता में आये। केंद्र में सरकार बनाते ही विनोद राय को पद्मभूषण सम्मान सहित बैंको के राष्ट्रीय बोर्ड का अध्यक्ष बनाकर उपकृत किया गया जो इनकी मिलीभगत का जीताजागता सबूत है ।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि येदियुरप्पा डायरी के अनुसार बदले गये 2690 करोड़ में से 1800 करोड़ रुपये भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को पहुंचाया गया। इस डायरी के प्रत्येक पेज पर येदियुरप्पा के हस्ताक्षर है, इस डायरी के अंदर भारतीय जनता पार्टी के शीर्षतम नेतृत्व के नाम दर्ज है जिन्हे रिश्वत दी गई। 1000 करोड़ रुपये भाजपा की सेंट्रल कमेटी को दिया गया, जिसमे नरेंद्र मोदी, अरुण जेटली, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी सब बैठते थे। फिर व्यक्तिगत लेनदेन भी है जिसमे नेताओ के नाम दिए गए हैंः- अरुण जेटली 150 करोड़, राजनाथ सिंह 100 करोड़, आडवानी 50 करोड़, मुरली मनोहर जोशी 50 करोड़, गडकरी के बेटे की शादी 10 करोड़। यहाँ तक कि 250 करोड़ जजेस के लिए भी लिखने की हिमाकत की गयी है। बाकायदा हर पेज पर येदुरप्पा जी के हस्ताक्षर भी है। कारवां ने लिखा है कि इसके बारे में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट, सीबीडीटी, अरुण जेटली, राजनाथसिंह, नितिन गडकरी, भारतीय जनता पार्टी नेतृत्व से पूछा गया कि क्या ये डायरी सही है और आपकी क्या प्रतिक्रिया है तो किसी ने भी कोई भी रिएक्शन नहीं दिया।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि बात-बात पर बौखला जाने वालों की खामोशी इन आरोपों की गंभीरता को और बढ़ाते है। ये डायरी अगस्त 2017 से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के पास है लेकिन जिस प्रकार से पनामा पेपर और अगस्ता वेस्टलैंड के घोटालों को दबाया गया उसी प्रकार येदुरप्पा डायरी को भी मोदी सरकार के दबाव में ठन्डे बस्ते में डाल दिया जाना ठीक नहीं इसकी जांच होनी चाहिये।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि येदियुरप्पा डायरी को लेकर वित्त मंत्री जेटली जी के पास अधिकारी गये, लेकिन जांच की अनुमति नहीं दी गयी। सीबी डीटी सेंट्रल बोर्ड ऑफ डारेक्ट टेक्सेस के अध्यक्ष सुशील चंद्रा जी को फोरेन्सिक जांच एवं ईडी प्रवर्तन निदेशालय से जांच की मांग की गयी लेकिन कुछ भी नहीं हुआ। अगर इस डायरी में कोई सच्चाई नहीं है तो मोदी सरकार को जांच कराने में क्या परेशानी है?

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि इन सवालों के जवाब देश की जनता को चाहिये। शुचिता और मर्यादा, कानून और संविधान, जवाबदेही और जिम्मेदारी से जुड़े इन सवालों को मोदी सरकार से पूरा देश पूछ रहा हैः-

येदियुरप्पा डायरी से उजागर हुआ भयानक, भयावह भ्रष्टाचार किस-किस भाजपा नेता ने किया?
1800 करोड़ की राशि किसने लूटी और यह राशि कहां गयी?
भ्रष्टाचारी कौन है, 1800 करोड़ की राशि किसके जेब में गयी?

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated

  • के बी पटेल नर्सिंग कॉलेज
  • Samwad 04
  • samwad 03
  • samwad 02
  • samwad 01
  • education 04
  • education 03
  • education 02
  • add seven