• मादा चीतल की कुएं में गिरने से मौत,कुत्तों के झुंड के हमलों से बचने भागी थी
  • रेलवे लाइन क्रॉस करते हुए भालू की ट्रेन से कटकर मौत…,नागपुर रोड से बिश्रामपुर रेलवे लाइन के बीच दर्री टोला के पास उजियारपुर की घटना
  • प्रार्थी पर जानलेवा हमला के बाद, केल्हारी थाना प्रभारी पर आरोपी के ऊपर नरम रुख अख्तियार करने का आरोप
  • जांच नहीं होने देने रोकने, सत्य को छिपाने, सबूतों का दबाने का खेल छत्तीसगढ़ की ही तरह दिल्ली की सरकार में भी जारी है:-कांग्रेस
  • प्रशासन की लापरवाही से ग्रामीण दूषित पानी पीने को मजबूर, पूरा गांव चर्म रोग के शिकार
  • मिशन उराँव समाज के विरोध से कांग्रेस में घमासान,पार्टी की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही

धड़ल्ले से अवैध रूप से रेत खनन रेत माफिया की सक्रियता पर अधिकारियों की आखिर चुपी क्यों ?

धड़ल्ले से अवैध रूप से रेत खनन रेत माफिया की सक्रियता पर अधिकारियों की आखिर चुपी क्यों ?

संजय गुप्ता//

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में एक बार फिर रेत माफियाओं का आतंक शुरू हो चुका है जहां पर रेत माफियाओं के द्वारा बेखौफ होकर रेत का अवैध उत्खनन जारी है।

कोरिया जिला अंतर्गत आने वाले ग्राम लाई से लगे राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 43 में हसदो नदी पुल से लगे क्षेत्र के रेत माफियाओं द्वारा बेखौफ होकर रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। आपको बता दें कि यहां पर जैसे ही हसदेव नदी का पानी छोड़ा गया उसके बाद से ही रेत माफियाओं द्वारा फिर से अपने कार्य को अंजाम देना चालू कर दिया गया है। यंहा के रेत माफिया द्वारा बिना किसी रोक टोक से रेत का निरन्तर अवैध उत्खनन जारी हैं जहां पर कई ट्रेक्टरो मालिको द्वारा नदी में मजदूरों के द्वारा रेत का अवैध उत्खनन कार्य करवाया जा रहा है। इस नदी के बगल में वन विभाग (नर्सरी) का बड़ा अमला रहता है। इसके बावजूद रेत माफियाओं द्वारा इस तरीके का कार्य किया जा रहा है।
अब देखना तो यह होगा कि कब तक इस तरीके का कार्य जारी रहता है और यहां के आला अधिकारी हैं इस पर कोई त्वरित कार्रवाई करते हैं या नहीं।

कोरिया के खनिज अधिकारी बजरंग सिंह पैकरा का इस मामले में कहना है कि इस मामले में पहले पिट पास ग्राम पंचायत के माध्यम से दिया जाता था किंतु अभी ऐसा नहीं है एवं इस सूचना पर कार्यवाही की जाएगी।

बजरंग सिंह पैकरा (खनिज अधिकारी)

लगातार दो दिन से रेत का अवैध उत्खनन एवं परिवहन राष्ट्रीय राजमार्ग से बेखौफ होकर किया जा रहा किन्तु अभी तक प्रशासन मौन धारण कर बैठी हुई है।
वजह चाहे जो भी हो लेकिन अभी रेत माफिया बेखौफ होकर अपने काम को अंजाम दे रहे हैं।

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated

Newsletter