Breaking News
  • एक रूपए जमा कर आम आदमी भी देख सकता है प्रत्याशी के निर्वाचन व्यय का लेखा
  • अनिल अंबानी/नीता अंबानी
  • ऑटो संघ और बोहरा समाज द्वारा आतंकवाद के विरोध मे शहर मे निकाला कैंडिल मार्च और दीप जला
  • नई सरकार विकास विरोधी – सांसद अभिषेक सिंह
  • हेल्दी फूड के लिए घर लाएं एयर फ्रायर
  • सौर ऊर्जा बेहतर भविष्य का विकल्प-भरत झुनझुनवाला

ग्राम स्तरीय संगोष्ठी का हुवा आयोजन,उन्नत चूल्हा उपयोग के लिए किया गया जागरूक

बगीचा-जशपुर जिले के बगीचा ब्लॉक के बुटूंगा गांव मे केयर इंडिया के द्वारा एवं यूरोपियन यूनियन के सहयोग से महिलाओं और पुरुषों को लेकर उन्नत चुल्हा के सम्बंधित एक ग्राम स्तरीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में बुटूंगा एवं कुरहाटीपना एवँ अन्य गांव के महिलाओं एवं पुरुष लोग उपस्थित थे।

इस कार्यक्रम को शुभारम्भ करते हुऐ प्रतिभागियों को बताया गया कि जंगल हमारा प्राकृतिक धरोहर हैं, इसका बचाव करना हम सब की जिम्मेदारी है। कार्यक्रम में यूरोपीयन यूनियन क़े सहयोग से केयर इंडिया द्वारा चलाये जा रहे बचत परियोजना(उन्नत चुल्हा) के बारे में बताते हुए कहा कि उन्नत चूल्हा के अनेक फायदे हैं, जैसे कि कम धुँआ का होना, कम लकड़ी की खपत, घर के अंदर व बाहर खाना बनाने कि सुविधा इत्यादि हैं। तथा बचत परियोजना के अंतर्गत बनायी गयी शी – स्कूल के संगठन के लोगों को एक साफ सुथरा स्वच्छ तरीके से खाना बनाने के लिए उन्नत चुल्हा को अपनाने के लिए प्रेरित किया गया।

इस कार्यक्रम में उपस्थित श्रीमती उर्सला टोप्पो(महिला बाल विकास (सुपरवाइजर) ने कहा कि अपने परिवार के लिए भोजन बनाने की जिम्मेदारी ज्यादातर महिलाएं की हि होती हैं। एवंमिट्टी की चूल्हें में खाना बनानेसे धुआं ज़्यादा होती है एवं महिलाएं के साथ हमेशा छोटे -छोटे बच्चे साथ होते है जो बच्चे एवं महिलाएं धुंआ से बिमारी होने का खतरा बढ जाता है एवं जंगल की कटाई से भी जंगल पर ज़्यादा बोझ होता है। जिससे कि जलवायु परिवर्तन मेंएक कारण है। इसलिए हम लोगों को उन्नत चुल्हा या गैस का इस्तेमाल करना चाहिए एवं धुँआ से होने वाले गम्भीर बीमारी से बच सकें।

इस विषय पर प्रकाश डालते हुए विनोद खलखो (प्राइमरी स्कूल शिक्षक) ने कहा कि इस ग्राम पंचायत के लोगों को जागरूक होना चाहिये एवं जंगल की कटाई को तत्काल रोक लगाना चाहिए। लकडी की उपलब्धता के लिए आस पास छोटे छोटे पेड़ लगाकर खाना बनाने के लिए उपलब्ध करना चाहिए।इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए केयर इंडिया संस्था से श्री दिग्विजय कुमार, गीतांजलि स्वाईन, दिपक राम, छेदीश्वर राम एवं जोनी एक्का जी का सहयोग सराहनीय रहा।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated

Your email address will not be published. Required fields are marked *