• प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी पर देश की जनता की तरह दिल्ली की जनता को भी पूर्ण विश्वास है-मनोज तिवारी
  • ईव्हीएम मशीनों को दोहरे ताले से किया गया सील
  • Gulab ka Sharbat
  • Bel Ka Juice
  • भारतीय अर्थव्यवस्था
  • Garmi Me Piye Istrawberi

गुणवत्ताविहीन निर्माण पुलिया के जांच का मांग जोरो पर,पुलिया निर्माण के गुणवत्ता पर उठ रहे सवालिया निशान

गुणवत्ताविहीन निर्माण पुलिया के जांच का मांग जोरो पर,पुलिया निर्माण के गुणवत्ता पर उठ रहे सवालिया निशान

आज का दिन कुनकुरी संवाददाता की विशेष रिपोर्ट

कुनकुरी-चराइडाँड़ से दमेरा मार्ग में बन रहे पुलिया का घटिया निर्माण इन दिनों चर्चा में है।उक्त पुलिया के निर्माण में जहाँ भारी लापरवाही बरती जा रही है वहीँ उक्त पुलिया में निर्माण के दौरान ही दरार आ गया है। उक्त घटना की जानकारी भी विधायक को देकर जाँच व कार्यवाही का मांग किया जा रहा है।

ज्ञात हो की चराइडाँड़ से दमेरा मार्ग के मरम्मत के लिए शासन प्रशासन भी अपनी तरफ से पूरी ताकत झोंकने में लगा है।उक्त मार्ग में आवागमन के लिए एक पुलिया का निर्माण भी किया जा रहा है,जिसका निर्माण गुणवत्ताविहीन हो रहा है।उक्त निर्माण का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि निर्माण के दौरान ही उक्त पुलिया में हल्का दरार आ गया है।वहीं भुरभुरी काली मिट्टी वाली जमीन पर बिना रेसयो के ढलाई कर दी गयी है जिससे ढलाई में सभी ओर से दरार आ गयी है, ऐसे में पुलिये की मजबूती कब तक और कितनी मजबूत होगी कहना मुश्किल है,वहीं विभाग की ओर से नियुक्त उप अभियंता के द्वारा उक्त निर्माण की अनदेखी किसी बड़े सेटिंग की ओर इशारा करती प्रतीत होती है वहीं कम्पनी के एक नुमाइंदे से जब हमने बात की तो उसने नाम न छापने की शर्त पर कहा की सर 35% बिलो का काम है इस कार्य मे जितनी गुणवत्ता दी जा सकती थी हम दे ही रहे हैं,, मौके पर जाकर जब हमारे संवाददाता एक पुल पर जाकर उसकी गुणवत्ता चेक किया तो कांक्रीट युक्त मसाला हाथों के खुरचने से ही पिल्लर से उखड़ने लगा,जो जांच का विषय है।

उक्त मार्ग पर पांच से छह पुलिया निर्माण होना है मगर जिस तरह गुणवत्ता से विभागीय उप अभियंता की देख रेख में में धांधली हो रही है उससे उक्त कार्य की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिये।पूर्व में कम्पनी ने सन्ना में भी कुछ इसी तरह का निर्माण किया था उस वक्त कम्पनी ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत सड़क बनाई थी जिसपर ग्रमीणों द्वारा झाड़ू फेर उक्त सड़क की गुणवत्ता पर सवालिया निशान लगाया था।पूर्व की घटना से कोई सीख न लेते हुए कम्पनी पुनः उसी तरह का घटिया निर्माण दमेरा मार्ग पर भी करा रही है,ग्रामीण उक्त निर्माण के विरुद्ध अब लामबंद होने लगे हैं ग्रामीणों के अनुसार उनके कई बार कहने के बाद भी ठेकेदारों ने निर्माण में गुणवत्ता पर अब तक सुधार नही किया है।

About VIDYANAND THAKUR

Leave a reply translated

Translate »