• अमलीडीही खदान में रेत उत्खनन के गोरख धंधे से क्षेत्र के लोग परेशान ,सफेद नकाब पोष नेताओ की फौज है शामिल
  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी पर देश की जनता की तरह दिल्ली की जनता को भी पूर्ण विश्वास है-मनोज तिवारी
  • ईव्हीएम मशीनों को दोहरे ताले से किया गया सील
  • Gulab ka Sharbat
  • Bel Ka Juice
  • भारतीय अर्थव्यवस्था

प्रशासन के आँखों के सामने हो रहा अवैध रेत उत्खनन,राजस्व चोरी सहित नियमों की धज्जियां उड़ाने का मामला आया सामने-रेत माफियाओं के हौसले बुलंद

प्रशासन के आँखों के सामने हो रहा अवैध रेत उत्खनन,राजस्व चोरी सहित नियमों की धज्जियां उड़ाने का मामला आया सामने-रेत माफियाओं के हौसले बुलंद

रायपुर- जशपुर जिला में प्रशासन के आँखों तले रेत माफियाओं द्वारा धड़ल्ले से अपना कारोबार चलाया जा रहा है।बार बार ध्यानाकर्षण के बावजूद इन पर कोई खास कार्यवाही नहीं किये जाने से अवैध उत्खनन निरंतर जारी है।जिससे न सिर्फ प्रशासन को राजस्व का नुकसान हो रहा है बल्कि उक्त मामले में कुछ प्रशासनिक अधिकारियों के मिली भगत के संदेह भी व्यक्त किये जा रहे है।उक्त मामले में कुनकुरी विधायक उत्तमदान मिंज के द्वारा जांच व कार्यवाही का मांग किया जा रहा है।

ज्ञात हो की राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण कार्य में लगे शिवालय कंपनी के द्वारा इन दिनों नियमों की धज्जियां खुले आम उड़ाया जा रहा है।इनके द्वारा बिना अनुमति व लीज के न सिर्फ रेत का भारी मात्रा में अवैध उत्खनन किया जा रहा है बल्कि बिना भंडारण अनुमति का भंडारण भी धड़ल्ले से किया जा रहा है।उक्त कार्य से न सिर्फ प्रशासन को राजस्व का नुकसान हो रहा है बल्कि बिना अनुमति व रॉयल्टी के कार्य किये जाने से नियमों की धज्जियां भी उड़ रही है। ग्राम पंचायत चराईडाँड़ आजकल अवैध उत्खनन और भंडारण का प्रमुख केंद्र बन गया है,बात चाहे मयाली स्थित खदानों की हो या चराइडाँड़ स्टेडियम स्थित शिवालय कंस्ट्रक्शन का प्लांट जहां रेत आदि मटेरियल को बिना लीज के अवैध तरीके से भंडारण करते हुवे डम्प कर रखा गया है,जिस कारण स्टेडियम का उपयोग खेल के जगह कुछ और कार्यों के लिए हो रहा है, स्टेडियम में खड़ी भारी भरकम मशीनों ने स्टेडियम के जमीनों को भी नुकसान पहुंचाया है।

ताज़ा मामला चराइडाँड़ चम्पाझरिया पूल के बगल में से दमेरा के लिए जो सड़क गयी है उस सड़क पर डम्प रेत का है प्राप्त सूचना के अनुसार ग्राम के ही किसी व्यक्ति द्वारा उक्त रेत को सिरिमकेला से लाकर डम्प कराया जाना कहा जा रहा है,उक्त रेत डंपिंग से सम्बंधित कोई भी वैध दस्तावेज उक्त व्यक्ति द्वारा पेश नही किया गया,बार बार उक्त कंपनी के कारोबार प्रशासन के कानों तक पहुंच रहा है लेकिन ऊँची पहुंच व अधिकारियों के मिली भगत से अब तक कोई भी अंकुश नहीं लग पाया है।

उक्त घटना के सम्बन्ध में बार बार खनिज विभाग को अवगत भी कराया गया है लेकिन जानकारी के बावजूद विभागीयअधिकारियों के द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं किये जाने से उनके कार्यशैली पर भी सवालिया निशान उठ रहे हैं।

सूत्र बताते हैं कि अब तक जितनी मात्रा में बिना अनुमति व रॉयल्टी के राजस्व की चोरी व अवैध भंडारण का मामला उक्त कंपनी का आया है उससे न सिर्फ दोषियों पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही हो सकता है बल्कि फर्म पर भी कार्यवाही कर ब्लेक लिस्टेड किये जाने का प्रावधान है।

डायरेक्टेड व जॉइंट सेकेट्री के हस्तक्षेप के बाद हुवा मामूली कार्यवाही

सूत्र बताते हैं कि अवैध उत्खनन व नियमों की धज्जियां उड़ाने के मामले की शिकायत जब जॉइन्ट सेकेट्री व डायरेक्टेड से किया गया तो उनके हस्तक्षेप के बाद सोमवार को खनिज निरीक्षक के द्वारा उक्त कंपनी के विरुद्ध मामूली कार्यवाही कर अपनी सक्रियता का परिचय दिया गया है।जबकि उक्त मामले में अब तक चोरी हुवे रॉयल्टी व कुछ जगह किये गए अवैध भंडारण पर कोई कार्यवाही न होने पर सवालिया निशान भी उठाया जा रहा है।अब चूंकि संपूर्ण मामले की जानकारी मंत्रालय स्तर पर जा चुका है ऐसे में यह देखना दिलचष्प होगा की क्या अब उक्त कंपनी के विरुद्ध प्रशासन सख्त होता है या मामले को ऐसे ही मामूली कार्यवाही कर दबा दिया जाएगा।

उक्त मामले में जितना दोषी सम्बंधित कंपनी है उतना दोषी खनिज विभाग के जिम्मेदार अधिकारी भी है।जिनके शह व मिलीभगत से उक्त काला कारोबार पनप रहा है।क्षेत्र में ऐसे काले कारोबारियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।क्षेत्र की जनता ने जिस भरोसे से चुनाव जीताकर विधायक बनाया है उनके भरोसे पर खरा उतर क्षेत्र की रक्षा में सदैव एक सेवक की तरह खड़ा रहूंगा।क्षेत्र की संपदा की चोरी पर कार्यवाही व जांच का मांग है जब तक यह पूरा नहीं हो जाता है मैं शांत बैठने वाला नहीं।

उत्तमदान मिंज विधायक कुनकुरी

About Prashant Sahay

Leave a reply translated

Translate »