• अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर वन मंत्री मोहम्मद अकबर कवर्धा के योग कार्यक्रम में होंगे शामिल
  • क्या संजीव भट्ट को फर्जी मामलों में उम्र कैद हुई है..?
  • बुजुर्गो के साथ भाजयुमो ने मनाया रोशन का जन्मदिन
  • मुस्लिमों को मार रहा हैं चीन,मानव अंगो की कमी को पूरा करने के लिए चीनी जेलों में बंद कैदियों के शरीर का सहारा ले रही चीन
  • पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव कर रहे हैं विभागीय कार्यों की समीक्षा
  • कृषि स्थायी समिति की बैठक 26 जून को

संविलियन की वादे को जल्द पूरा करे सरकार ,बजट में संविलियन के लिए राशि का प्रावधान नही हुआ तो सरकार के खिलाफ होगा बड़ा आंदोलन।-शिव डड़सेना।

संविलियन की वादे को जल्द पूरा करे सरकार ,बजट में संविलियन के लिए राशि का प्रावधान नही हुआ तो सरकार के खिलाफ होगा बड़ा आंदोलन।-शिव डड़सेना।

एक महीने से ज्यादा हो गए सरकार ने संविलियन की लिए अभी तक कोई फैसले नही लिया है।जिससे जिससे संविलियन से वंचित शिक्षको में असंतोष पनपना चालू को गया है
सरकार द्वारा संविलियन के संबंध में अभी तक कोई चर्चा भी नही की गई है।संविलियन संघर्ष समिति के प्रांतीय पदाधिकारी विगत 1 महीने से लगातार मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री से मिल चुके है साथ ही प्रांतीय उपसंचालक और जिलाध्यक्षो के द्वारा लगातार स्थानीय स्तर पर मंत्री और विधायको से मिल रहे है लेकिन किसी को ठोस आश्वासन देने के बजाय इंतजार करने की बात कह रहे है। पिछले दिनों सरकार ने अपने बहुत सारे वादे पूरे किए है तो संविलियन के संबंध में इंतज़ार करने क्यो कहा जा रहा है।इंतज़ार का क्या मतलब है सरकार को स्पष्ट करना चाहिए और निश्चित समय सीमा बताना चाहिए।
संविलियन संघर्ष समिति के प्रांतीय संचालक शिव डड़सेना से कहा कि शिक्षा मंत्री ने अपने बयानों में कहा है कि बजट में संविलियन के लिए वितीय प्रावधान करेंगे।अगर मंत्रिपरिषद में बहुत जल्दी फैसला नही किया गया और बजट में वितीय व्यवस्था नही किया गया तो सरकार के खिलाफ।बहुत बड़ा आंदोलन होगा जिसके लिए सरकार स्वम जुम्मेदार रहेगा।
समय आ गया है कि संविलियन का आश्वासन देने के बजाय फैसले ले।संविलियन के सबंध में अभी तक कोई पहल नही किया है जिससे संविलियन के वंचित शिक्षको में धीरे धीरे आकोश पनप रहा है। 48 हजार संविलियन से वंचित शिक्षक सहित 5 लाख परिवार संविलियन की बड़ी उम्मीदों विधानसभा चुनाव में साथ दिए है यदि लोकसभा चुनाव के पहले संविलियन का फैसला।नही हुआ तो सरकार को बहुत नुकसान उठाना पड़ेगा।
प्रांतीय संचालक शिव डड़सेना टी पी साहू ने संयुक्त रूप से कहा है कि कहा है कि सरकार किसानों की तरह शिक्षको के संविलियन की वादे को प्राथमिकता के साथ जल्द पूरा करे। ताकि सरकार किसी प्रकार से असंतोष और अविश्वास का सामना करना न पड़े।
27 जनवरी को अतिआवश्यक बैठक रखी गयी है इसी दिन सरकार के रुख को भांपते हुए समस्त प्रदेश उपसंचालक जिलाध्यक्षो औऱ ब्लॉक अध्यक्षो की उपस्तिथी में आगे की रणनीति तय की जाएगी

About VIDYANAND THAKUR

Leave a reply translated