• कांग्रेस नेता नितिन भंसाली के शिकायत पर आबकारी विभाग में करोड़ों रुपयों के भ्रष्टाचार करने वाले समुद्र सिंह के ठिकानों पर तड़के सुबह ईओडब्ल्यू की छापेमारी
  • काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!
  • भूपेश बघेल सरकार के 60 दिन के काम के आगे नही चली
  • श्रीलंका ब्लास्ट आई.एस.आई.एस. का अक्षम्य अपराध – रिजवी
  • पूर्व मुख्यमंत्री के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता डीकेएस अस्पताल घोटाला और ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि का वेतन घोटाला उजागर करने पर मुझ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है : विकास तिवारी
  • जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तनखा के पक्ष में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लेंगे सभायें

मोदी सरकार में जीएसटी संशोधन भाजपा हार के बाद ही क्यों – कांग्रेस

मोदी सरकार में जीएसटी संशोधन भाजपा हार के बाद ही क्यों – कांग्रेस


रायपुर-केन्द्र सरकार द्वारा जीएसटी में किये गये संशोधन पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा कि गुजरात, कर्नाटक चुनाव और अब राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ जैसे बड़े राज्यों में हार का सामना करने के पश्चात जीएसटी में संशोधन इस बात को प्रमाणित करता है कि मोदी सरकार में जीएसटी संशोधन हार के बाद ही किया जाता है, एैसा क्यों?

देश प्रदेश की जनता जानना चाहती है? जनविरोधी जीएसटी 1 जुलाई 2017 से केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने भारत देश में लागू किया है। लागू नियमावली में आज तक 357 संशोधन किए जा चुके है, जो इस बात को बल देता है कि जीएसटी आधी अधूरी तैयारियों के साथ देश पर थोपा गया।


जीएसटी की कल्पना कांग्रेस पार्टी ने अधिकतम 18 प्रतिशत तय कर देश को सब करो से मुक्त कर एक कर की मंशा के साथ मसौदा तैयार किया था, मगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने अपनी आधी अधूरी तैयारी के साथ 28 प्रतिशत जीएसटी लागू कर देश की जनता को महंगाई की आग में झोंकने का काम किया है। जिससे देश की जनता की आर्थिक व्यवस्था लडख़ड़ा सी गई है।

 

About Prashant Sahay

Leave a reply translated

Translate »