• क्या संजीव भट्ट को फर्जी मामलों में उम्र कैद हुई है..?
  • बुजुर्गो के साथ भाजयुमो ने मनाया रोशन का जन्मदिन
  • मुस्लिमों को मार रहा हैं चीन,मानव अंगो की कमी को पूरा करने के लिए चीनी जेलों में बंद कैदियों के शरीर का सहारा ले रही चीन
  • पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव कर रहे हैं विभागीय कार्यों की समीक्षा
  • कृषि स्थायी समिति की बैठक 26 जून को
  • ऋण एवं प्राथमिकता वाले प्रकरणों की स्वीकृति बैंकर्स अविलम्ब करें: कलेक्टर : डीएलसीसी की बैठक में विभागवार प्रगति की समीक्षा की गई

भाजपा को लगा एक और झटका,पश्चिम बंगाल में भाजपा के रथ यात्रा पर कोर्ट ने लगाया रोक

भाजपा को लगा एक और झटका,पश्चिम बंगाल में भाजपा के रथ यात्रा पर कोर्ट ने लगाया रोक

कलकत्ता हाईकोर्ट ने बदला फैसला,प्रदेश में बीजेपी की रथ यात्रा पर लगाई रोक


कोलकाता – कलकत्ता उच्च न्यायालय ने पश्चिम बंगाल में भाजपा की ‘रथ यात्रा’ को अनुमति देने वाला एकल पीठ का आदेश शुक्रवार को रद्द कर दिया। मुख्य न्यायाधीश देबाशीष कारगुप्ता और न्यायमूर्ति शम्पा सरकार की खंडपीठ ने मामला वापस एकल पीठ के पास भेजते हुए कहा कि वह इस पर विचार करते वक्त राज्य सरकार की ओर से दी गई खु्फिया जानकारी को ध्यान में रखे। दो न्यायाधीशों की पीठ ने यह आदेश राज्य सरकर की अपील पर सुनवाई के बाद दिया जिसमें उसने एकल पीठ के आदेश को चुनौती दी थी।


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस बेंच ने कहा है कि 36 खुफिया रिपोर्ट पर विचार किया जाए। इससे पहले गुरुवार (20 दिसंबर) को कलकत्ता हाईकोर्ट ने राज्य सरकार की उस दलील को खारिज कर दिया था, जिसमें कहा गया था कि बीजेपी की यात्रा के कारण सांप्रदायिक सद्भाव को चोट पहुंचने की संभावना है। ममता सरकार ने हाईकोर्ट के फैसले को चैलेंज किया था।


अदालत ने पार्टी को यह भी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया था कि यात्राएं कानून का पालन करते हुए यात्रा निकाली जाएं और सामान्य यातायात बाधित नहीं होना चाहिए। वहीं, पश्चिम बंगाल सरकार ने भाजपा को रथ यात्रा की अनुमति देने से इनकार कर दिया था। उसने इसके लिए इन खुफिया रिपोर्टों का हवाला दिया था कि उन इलाकों में साम्प्रदायिक हिंसा की आशंका है जहां पार्टी यात्रा निकालने की योजना बना रही है।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated