• कांग्रेस नेता नितिन भंसाली के शिकायत पर आबकारी विभाग में करोड़ों रुपयों के भ्रष्टाचार करने वाले समुद्र सिंह के ठिकानों पर तड़के सुबह ईओडब्ल्यू की छापेमारी
  • काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!
  • भूपेश बघेल सरकार के 60 दिन के काम के आगे नही चली
  • श्रीलंका ब्लास्ट आई.एस.आई.एस. का अक्षम्य अपराध – रिजवी
  • पूर्व मुख्यमंत्री के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता डीकेएस अस्पताल घोटाला और ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि का वेतन घोटाला उजागर करने पर मुझ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है : विकास तिवारी
  • जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तनखा के पक्ष में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लेंगे सभायें

अन्ना दिल्ली की बजाय महाराष्ट्र में बैठेंगे धरने पर,लोकपाल को लेकर एक बार फिर से धरने पर बैठेंगे हजारे

अन्ना दिल्ली की बजाय महाराष्ट्र में बैठेंगे धरने पर,लोकपाल को लेकर एक बार फिर से धरने पर बैठेंगे हजारे

लोकपाल हेतु 30 जनवरी से धरने पर बैठेंगे हजारे


रालेगण सिद्धि – सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे लोकपाल की मांग को लेकर एक बार फिर से धरने पर बैठने जा रहे हैं। इस बार अन्ना दिल्ली की बजाय महाराष्ट्र स्थित अपने गांव रालेगण में ही धरने पर बैठेंगे। अन्ना केंद्र में लोकपाल और राज्यों में लोकायुक्त की नियुक्ति की मांग को लेकर 30 जनवरी से अपना धरना शुरू करेंगे।


हाल ही में अन्ना ने पीएमओ को लिखे एक पत्र में कहा था, 2 अक्टूबर को अपने गांव रालेगण सिद्धि से आंदोलन शुरू करना था लेकिन महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और अन्य नेताओं ने फिर आश्वासन दिया कि लोकपाल और लोकायुक्तों की नियुक्ति की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। मैंने उन्हें एक और मौका देने और 30 जनवरी तक इंतजार करने का मन बनाया है।


हजारे ने मौजूदा एनडीए सरकार पर आरोप लगाया था कि ‘स्पष्ट तौर पर मौजूदा सरकार की मंशा लोकपाल और लोकायुक्त नियुक्त करने की नहीं है।’ बता दें कि दोनों सदनों में लोकपाल बिल पास होने के बावजूद केंद्र में लोकपाल की नियुक्ति अभी तक नहीं हो पाई है। ज्यादातर राज्यों में लोकायुक्त का पद अभी भी खाली है।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated

Translate »