• कांग्रेस नेता नितिन भंसाली के शिकायत पर आबकारी विभाग में करोड़ों रुपयों के भ्रष्टाचार करने वाले समुद्र सिंह के ठिकानों पर तड़के सुबह ईओडब्ल्यू की छापेमारी
  • काशी तुम मंदिरों में होती थी कभी, सड़कों पर हो.. क्या देवता स्वर्ग लोक से लौटे हैं..!!!
  • भूपेश बघेल सरकार के 60 दिन के काम के आगे नही चली
  • श्रीलंका ब्लास्ट आई.एस.आई.एस. का अक्षम्य अपराध – रिजवी
  • पूर्व मुख्यमंत्री के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता डीकेएस अस्पताल घोटाला और ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि का वेतन घोटाला उजागर करने पर मुझ पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है : विकास तिवारी
  • जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी विवेक तनखा के पक्ष में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लेंगे सभायें

एमजे अकबर और तरुण तेजपाल एडिटर गिल्ड से निलंबित

एमजे अकबर और तरुण तेजपाल एडिटर गिल्ड से निलंबित

दोनों के पर है यौन उत्पीडऩ के आरोप
नई दिल्ली – पूर्व केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर एवं विख्यात पत्रकार तरुण तेजपाल को एडिटर गिल्ड से निलंबित कर दिया गया है। दोनों पत्रकारों पर यौन शोषण का आरोप है। एडिटर गिल्ड ऑफ इंडिया (ईजीआई) ने आज पत्रकार-से-राजनेता बने एमजे अकबर को निलंबित करने का फैसला किया। बताया गया है कि जबतक अकबर मीटू मामले में महिलाओं के द्वारा लगाए गए आरोपों का सामना कर रहे हैं तबतक उन्हें इस संगठन से निलंबित रहना होगा।

गिल्ड के सूत्रों से मिली खबर में बताया गया है कि आज गिल्ड की एक बैठक में ईजीआई के पदाधिकारियों ने यह फैसला लिया। आपको बता दें कि अकबर को महिला पत्रकार के द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद अपना मंत्री पद छोडऩा पड़ा था। अकबर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन की सरकार में विदेश राज्यमंत्री का पद संभाल रहे थे।

 

उनके उपर उनकी पूर्व सहयोगी प्रिया रमनी ने मीटू के तहत यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया था। ईजीआई ने पूर्व तहलका के संपादक तरुण तेजपाल के खिलाफ भी ऐसा ही फैसला लिया है। तेजपाल इन दिनों बलात्कार के एक मामले में जेल की सजा काट रहे हैं।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated

Translate »