• स्नेहा तुम्हारी जाति क्या है? पहली बार देश में ये माना गया है कि कोई व्यक्ति जाति और धर्मविहीन हो सकता है. सरकार ने इसका सर्टिफिकेट जारी किया है. ये एक बड़ी सामाजिक क्रांति की शुरुआत हो सकती है
  • कलेक्टर से निगम समस्या को लेकर भाजपा पार्षद दल ने की मुलाकात
  • News
  • खाद्य, नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण, आवास एवं पर्यावरण, परिवहन एवं वन विभाग के लिए 4469 करोड़ 54 लाख 45 हजार रूपए की अनुदान मांगें ध्वनि मत से पारित
  • आरटीआई कार्यकर्ता राजकुमार मिश्रा को प्रदेश के उच्च व निम्न न्यायिक अधिकारियों के विरुद्ध लंबित विभागीय जांच की जानकारी 30 दिनों के भीतर देने का आदेश
  • जशपुर के पर्यटन एवम पुरातात्विक स्थलों के बारे में प्रदेश में आवाज़ उठाई विधायक यूडी मिंज ने

एमजे अकबर और तरुण तेजपाल एडिटर गिल्ड से निलंबित

एमजे अकबर और तरुण तेजपाल एडिटर गिल्ड से निलंबित

दोनों के पर है यौन उत्पीडऩ के आरोप
नई दिल्ली – पूर्व केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर एवं विख्यात पत्रकार तरुण तेजपाल को एडिटर गिल्ड से निलंबित कर दिया गया है। दोनों पत्रकारों पर यौन शोषण का आरोप है। एडिटर गिल्ड ऑफ इंडिया (ईजीआई) ने आज पत्रकार-से-राजनेता बने एमजे अकबर को निलंबित करने का फैसला किया। बताया गया है कि जबतक अकबर मीटू मामले में महिलाओं के द्वारा लगाए गए आरोपों का सामना कर रहे हैं तबतक उन्हें इस संगठन से निलंबित रहना होगा।

गिल्ड के सूत्रों से मिली खबर में बताया गया है कि आज गिल्ड की एक बैठक में ईजीआई के पदाधिकारियों ने यह फैसला लिया। आपको बता दें कि अकबर को महिला पत्रकार के द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद अपना मंत्री पद छोडऩा पड़ा था। अकबर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन की सरकार में विदेश राज्यमंत्री का पद संभाल रहे थे।

 

उनके उपर उनकी पूर्व सहयोगी प्रिया रमनी ने मीटू के तहत यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया था। ईजीआई ने पूर्व तहलका के संपादक तरुण तेजपाल के खिलाफ भी ऐसा ही फैसला लिया है। तेजपाल इन दिनों बलात्कार के एक मामले में जेल की सजा काट रहे हैं।

About Prashant Sahay

Leave a reply translated

Your email address will not be published. Required fields are marked *