• खबर का असर-एक माह से अँधेरे में जीवन काट रहे लोगों की मिली रौशनी,ग्रामीणों ने कहा धन्यवाद आज का दिन
  • कर्नाटका बैंक ने बालाजी मेट्रो हास्पिटल को भेंट की एंबुलेंस,रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक ने पूजा अर्चना कर किया लोकार्पण
  • अखिल छ ग चौहान कल्याण समिति के तत्वाधान में युवा जागृति सामाजिक जन चेतना मासिक सम्मलेन संपन्न
  • आई जी दुर्ग रेंज की पहल रंग लाने लगी,,,वीडियो कॉल द्वारा पुलिस को सुझाव आने लगा
  • महापौर रेड्डी ने डीएव्ही मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल चिरमिरी में खोलने किया मॉंग
  • हल्दीबाड़ी ग्रामीण बैंक के पास आज लगेगा रोजगार मेला

आखिरी समय में अकेली रह गयी थी परवीन बॉबी

आखिरी समय में अकेली रह गयी थी परवीन बॉबी

गुजरे जमाने की बोल्ड अभिनेत्री परवीन बॉबी का फिल्मी सफर तो बहुत ही खूबसूरत रहा, पर उनकी वास्तविक जिंदगी बेहद त्रासदीपूर्ण रही। उनका नाम कई बड़े सितारों के साथ जुड़ा और अफेयर के किस्से भी रहे पर इसके बाद भी अपने आखिरी समय में इस अभिनेत्री को अकेलेपन में गुजारा करना पड़ा।
पहली हिट फिल्म रही मजबूर
4 अप्रैल, 1949 को जन्मी परवीन बॉबी का जन्म गुजरात के जूनागढ़ में एक मुस्लिम परिवार में हुआ था। परवीन ने अपनी पढ़ाई लिखाई गुजरात से ही पूरी की। परवीन के मॉडलिंग करियर की शुरूआत 1972 में हुई। बॉलीवुड में परवीन बॉबी ने 1973 में फिल्म ‘चरित्र’ से डेब्यू किया लेकिन ये फिल्म फ्लॉप रही। इसके बाद परवीन को बहुत सारी फिल्मों के ऑफर मिले। परवीन बॉबी की पहली हिट फिल्म ‘मजबूर’ थी जो 1974 में रिलीज हुई थी और इसमें उनके साथ अमिताभ बच्चन थे।
टाइम मैगजीन के कवर पेज पर छायीं
परवीन की ग्लैमरस अदाएँ खूब चर्चा में रहती थीं। परवीन बॉबी पहली बॉलीवुड स्टार थीं जो उस दौर में किसी हॉलीवुड मैगज़ीन के कवर पेज पर नज़र आईं। 1976 में टाइम मैगजीन ने अपने कवर पेज पर परवीन को जगह दी थी।
अमिताभ के साथ दी कई सुपरहिट फिल्में
1975 में आई यश चोपड़ा की फिल्म ‘दीवार’ में अमिताभ और परवीन की जोड़ी हिट रही। इसके बाद 1977 में मनमोहन देसाई की फिल्म ‘अमर अकबर एंथोनी’ में एक बार फिर परवीन ने अमिताभ के साथ काम किया। उनकी यह फिल्म भी सुपरहिट रही। इस बीच उन्होंने ‘काला पत्थर’ और ‘सुहाग’ जैसी सुपरहिट फिल्मों में शशि कपूर के साथ भूमिकाएं निभाईं। 1981 में परवीन बॉबी ने ‘कालिया’, ‘क्रांति’ और ‘आहिस्ता-आहिस्ता’ जैसी सुपरहिट फिल्मों में भूमिकाएं कीं। इसके बाद फिल्म ‘नमक हलाल’ परवीन बॉबी के फिल्मी करियर की एक और सुपरहिट फिल्म साबित हुई। परवीन ने करीब 50 फिल्मों में काम किया। उनकी आखिरी फिल्म 1988 में ‘आकर्षण’ थी।
कबीर और महेश के साथ रहा है अफेयर
परवीन ने कभी शादी नहीं की पर उनके अफेयर के कई किस्से रहे। इंडस्ट्री में हिट होने के बाद पहली बार परवीन का नाम अभिनेता डैनी डेनजोगपा से जुड़ा। डेनी ने फिल्मफेयर को दिए एक साक्षात्कार में बताया था कि परवीन के साथ वो चार सालों तक रिलेशनशिप में रहे। इसके बाद आपसी सहमित से दोनों अलग हो गए। उन्होंने ये भी बताया था कि अमिताभ बच्चन की वजह से उनका रिश्ता खत्म हुआ।
परवीन और अमिताभ के बीच भी अफेयर की बातें मीडिया में आईं थीं। इसके बाद परवीन की ज़िंदगी में अभिनेता कबीर बेदी आये। इन दोनों के इश्क के खूब चर्चे हुए। कबीर शादीशुदा थे लेकिन फिर भी दोनों काफी समय तक रिलेशनशिप में रहे लेकिन ये रिश्ता ज्यादा वक्त तक टिक नहीं पाया। कबीर बेदी से ब्रेकअप के वक्त ही परवीन बॉबी और महेश भट्ट की नजदीकियां बढ़ीं और साल 1977 में दोनों का प्यार परवान चढ़ा। परवीन बॉबी जिन दिनों ‘अमर अकबर एंथनी’ और ‘काला पत्थर’ जैसी फिल्में कर रही थीं, उसी दौरान वो महेश भट्ट के प्यार में पागल भी थीं।
मानसिक बीमारी
प्यार का खुमार ऐसा था कि महेश भट्ट अपनी पत्नी से अलग हो चुके थे और परवीन के साथ लिव-इन में रहते थे। कुछ समय बाद परवीन बॉबी को बेहद खतरनाक मानसिक बीमारी हुई जिसका इलाज अमेरिका तक करवाया गया लेकिन वो सही नहीं हुईं. उन्हें लगता था कि कोई उन्हें मारने की कोशिश कर रहा है।
इसके बाद महेश भट्ट अपनी पत्नी के पास वापस लौट गए। इसी दौरान महेश भट्ट ने ‘अर्थ’ की स्टोरी लिखी जो उनकी खुद की कहानी थी। इसमें शबाना आज़मी और स्मिता पाटिल मुख्य भूमिका में थे। इस फिल्म को उस दौर में काफी पसंद किया गया। इसके बाद 2006 में महेश भट्ट फिल्म ‘वो लम्हें’ लेकर आए जिसमें शाइनी आहूजा और कंगना रनौत मुख्य भूमिका में थे। इस फिल्म की कहानी भी महेश भट्ट और परवीन बॉबी की लव स्टोरी जैसी ही थी।
आखिरी वक्त में रहीं अकेली
महेश भट्ट जब परवीन बॉबी से अलग हो गए तो वो अकेली पड़ गईं। अपनी बोल्डनेस के लिए जानी जाने वाली इस अभिनेत्री के साथ आखिरी वक्त में कोई भी नहीं था। बीमारी के बाद अकेलेपन ने धीरे-धीरे परवीन बॉबी को अंदर से खोखली हो गयी रुपहले पर्दे पर धूम मचाने वाली यह बोल्ड गर्ल, दुनिया से ऐसे विदा हुई कि किसी को कुछ पता ही नहीं चला।

About Aaj Ka Din

Leave a reply translated