• सांसद नुसरत जंहा हिंदू रीति रिवाज से कपड़ा व्यवसायी निखिल जैन से की शादी
  • 13 वायुसैनिकों के पार्थिव शवों के अवशेष मिले..,एएन-32 विमान का लापता होने का मामला
  • गुजरात में RS चुनाव : दो सीटों पर अलग- अलग चुनाव के खिलाफ कांग्रेस की याचिका SC ने चुनाव आयोग को नोटिस जारी किया
  • बिलाईगढ़ के कांग्रेस विधायक चंद्रदेव प्रसाद राय के लेटर हेड पर फर्जी हस्ताक्षर कर क्षेत्र के पंचायतो में करोड़ो रुपयो के काम स्वीकृत कराने के आरोप में 2 आरोपी गिरफ्तार..
  • अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कल देश भर में विश्व योग दिवस मनाया जायेगा..
  • उसेंडी शिक्षाकर्मियों के संविलियन पर नुक्ताचीनी करने के बजाय रमन सरकार का चरित्र देखें

सी-विजिल एप से मिलीं एक हजार से अधिक शिकायतें

सी-विजिल एप से मिलीं एक हजार से अधिक शिकायतें

मदिरा, कंबल वितरण से लेकर मंदिर में राजनीतिक प्रचार की शिकायतों के 714 मामलो में हुई तत्काल कार्रवाई

विधानसभा निर्वाचन 2018

सी-विजिल में बढ़ी आम लोगों की सक्रियता

कोरिया, 15 नवंबर 2018/ छत्तीसगढ़ में निर्वाचन के दूसरे चरण के लिए 20 नवम्बर को 72 सीटों पर मतदान होना है। राजनीतिक दलों और प्रत्याशियों की गतिविधियाँ तेजी से बढ़ रही हैं। आम लोगों में भी राजनीतिक सगजता और सक्रियता बढ़ी है। भारत निर्वाचन आयोग के सी-विजिल एप (सिटिजन विजिल एप) पर लोगों से आदर्श आचरण संहिता के उल्ल्घंन की शिकायतें लगातार मिल रही हैं। शिकायतों ने अब तक एक हजार का आँकड़ा पार कर लिया है। इस एप के क्रियाशील होने के बाद कल 14 नवंबर तक कुल एक हजार दो सौ पाँच शिकायतें प्राप्त हो चुकी हैं। इसमें से 98 प्रतिशत से अधिक का निराकरण भी कर लिया गया है, जबकि शेष पर कार्रवाई की जा रही है।
अधिकारियों ने बताया कि प्राप्त शिकायतों में 714 पर आवश्यक कार्रवाई की गई, जबकि 469 रद्द कर दिए गए। क्योंकि ऐसी शिकायत बिना प्रमाण या अपूर्ण जानकारी वाली थी। 22 पर कार्रवाई जारी है। प्राप्त शिकायतों में प्रत्याशी समर्थकों द्वारा मदिरा वितरण, कंबल वितरण, अनाधिकृत तौर पर बैनर – पोस्टर लगाने संबंधी शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। इन शिकायतों के आधार पर निगरानी दल के द्वारा जब्ती समेत एफआईआर तक दर्ज कराई गई है। कटघोरा और कोरबा में शराब वितरण की शिकायत मिलने पर तत्काल कार्रवाई करते हुए सामग्री की जब्ती की गई। वहीं नारायणपुर में कंबल वितरण की शिकायत हुई थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए स्थल पर प्राप्त कंबलों को भी जब्त किया गया था। इसी प्रकार दुर्ग के शंकर नगर क्षेत्र में मंदिर में राजनीतिक विज्ञापन किए जाने की शिकायत प्राप्त हुई मौके पर पहुँच शिकायत सही पाई गई और विज्ञापन करने वालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है । शिकायतों में सबसे ज्यादा बिना अनुमति बैनर पोस्टर लगाने की शिकायतें हैं। इसके अतिरिक्त प्रचार सामग्री का अनाधिकृत परिवहन समेत आचार संहिता उल्लंघन के अन्य मामले शामिल हैं।
सी-विजिल पर शिकायत करने वालों में कई ऐसे भी लोग हैं जो शिकायत के साथ समुचित प्रमाण नहीं भेज पा रहे हैं। इसके अतिरिक्त अपूर्ण जानकारी के साथ ही शिकायत भेज रहे हैं । प्राप्त शिकायतों में बहुत शिकायत इसलिए अमान्य हो जाती हैं।
सी-विजिल एप से प्राप्त शिकायतों में सबसे अधिक रायपुर में 288 शिकायतें, इसके बाद दुर्ग में 135 और रायगढ़ में 116 शिकायतें प्राप्त हुईं। इसी प्रकार सबसे कम बलरामपुर में 6 और दण्तेवाड़ा और बीजापुर में 7- 7 शिकायतें प्राप्त हुई हैं।
सी-विजिल पर मिलने वाली शिकायतों के निराकरण के लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में अलग से नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री सुब्रत साहू स्वयं प्रतिदिन मिलने वाली शिकायतों पर हुई कार्रवाई की निगरानी कर रहे हैं।
राज्य में विधानसभा निर्वाचन-2018 के दौरान आदर्श आचार संहिता का पालन सुनिश्चित कराने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। भारत निर्वाचन आयोग ने विधानसभा निर्वाचन के दौरान एंड्रायड आधारित एप शुरू कर आचार संहिता के उल्लंघन पर त्वरित कार्रवाई के लिए सीधे आयोग को शिकायत पहुँचाने की व्यवस्था की है।इस एप को गूगल प्ले स्टोर से निशुल्क डाउनलोड किया जा सकता है।
उल्लेखनीय है कि एप के जरिए निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान होने वाली गड़बड़ी की तस्वीर और वीडियो को भेजा जा सकता है। निर्वाचन के दौरान अगर किसी भी मतदाता को यह दिखता है कि आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है, तो वे इस एप पर अपनी शिकायत भेज सकते हैं। इसके लिए शिकायतकर्ता फोन पर सी-विजिल एप्लिकेशन डाउन लोड कर सीधे घटना की फोटो या वीडियो अपलोड कर सकते हैं। मतदाता को रिझाने के लिए पैसे अथवा उपहार वितरण, भड़काऊ भाषण देने, बिना अनुमति बैनर-पोस्टर लगाने, मदिरा वितरण, बिना अनुमति सभाएं करने, अनाधिकृत सामग्री परिवहन, प्रचार समय समाप्ति के बाद सभा, मतदान केन्द्र के 200 मीटर के अंदर प्रचार समेत ऐसे ही किसी अन्य आचार संहिता उल्लंघन के मामलों की शिकायत इस एप के माध्यम से की जा सकती है।

About VIDYANAND THAKUR

Leave a reply translated